HomeSex Story

एनआरआई कजिन की चुदाई

Like Tweet Pin it Share Share Email

ये स्टोरी मेरी कजिन के साथ है. उसका नाम शालू है और वो आयरलैंड में रहती है. मेरी और उसकी बहुत अच्छी फ्रेंडशिप है और हम दोनों रोज़ फ़ोन पर बात करते है, तो मैंने ऍफ़बी पर भी अपना अकाउंट बनाया और वहां भी बहुत गर्ल्स के साथ सेक्स चैट किया है. हम दोनों भी यहाँ पर भी फ्रेंड बने और उसने मुझे उसके साथ कुछ करने के लिए बोला. मैं अपनी सिस्टर के साथ सेक्स चैट ट्राई किया. मैंने उसको बतायाम कि आई लाइक हर और मुझे उसके साथ फिजिकल रिलेशनशिप करनी है. तो उसे बहुत गुस्सा आ गया और उसने फिर मुझसे ११ बात नहीं की और और फिर ११ डेज बाद, मुझे पता चला कि.. वो इंडिया आ गयी है. तो मैं मिलने गया. मुझे बहुत डर लग रहा था. बट जब उसको देखा, तो मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया. जब वो २ इयर पहले गयी थी, तो बच्ची लगती थी.

बट अब उसका फिगर ३४-२८-३२ का हो गया था और उसे देखकर मेरा लंड पगला गया. मैं उससे नज़रे नहीं मिला पा रहा था. उसने मुझे देखा और घूरने लगी. फिर मैं जाके रूम में बैठ गया, तो वो मेरे पास आई और कहने लगी. देखो, वी आर फ्रेंड्स और मुझे तुम्हारी फ्रेंडशिप चाहिए. फिर, हम दोनों की बातें शुरू हो गयी. काफी टाइम गुजर गया. मेरी समर वेकेशन थी, तो मैं उसके घर रहने चले गया और वहां जब वो मेरे सामने आती, तो मेरा लंड खड़ा हो जाता था. एकबार, वो घर में बाथ कर रही थी और घर में कोई नहीं था. उसने मुझसे टॉवल माँगा और जैसे ही, मैं उसे देने लगा. तो बाथरूम में लगे मिरर से मुझसे उसकी बॉडी दिख गयी और मैं पगला गया. एकदम गोरी बॉडी, मेरी तो लंड खड़ा हो गया. मैं भाग के टॉयलेट गया और मुठ मारने लगा. फिर सोचा, कि मुझे इसे चोदना ही है. फिर बस प्लान बनाने लगा, कि उसे कैसे चोदु? फिर मैं उसे किसी ना किसी बहाने से टच करने लगा. उससे चिपक कर बातें करने लगा. उसने भी वो नोटिस किया और शायद उसे भी अच्छा लगने लगा था और सब एन्जॉय करने लगी.

फिर एक बार, वो मेरा फ़ोन चेक कर रही थी, तो गैलरी में बीऍफ़ थी. वो उसने ओपन की ही थी और मैंने फ़ोन ले लिया और फिर सीधे बाथरूम में चला गया और जान के डोर थोडा सा ओपन कर दिया. मैंने बीऍफ़ की वौइस् थोड़ी बढ़ा दी. मुझे पता था, वो आवाज़ जरुर सुनेगी. वो आई और मैं मुठ मारने लगी और वो देखती रही. तभी उसकी माँ ने उसे आवाज़ देकर बुलाया, तो वो चली गयी. फिर वो भी शायद मान गयी थी. तभी उसने शोर्ट क्लॉथ पहनना स्टार्ट कर दिए और मुझसे चिपकने लगी. एकबार, वो फ्लोर साफ़ कर रही थी और उसने लूज टॉप के बीचे ब्रा नहीं पहनी थी और मैं सोफे पर बैठा था और वो मेरे सामने जानकार झुक रही थी. मेरा लंड खड़ा हो गया, जो उसने देख लिया और मुझे एक नॉटी सी स्माइल दे दी. मुझे ग्रीन सिग्नल मिल चूका था. रात को उसने अपनी माँ से बोला, कि मैं बाथ करने जा रही हु और मेरी तरफ स्माइल करके बाथरूम जाने लगी. मैं समझ गया था. मैं टेरेस पर चला गया. बाथरूम के टेरेस पर एक्स्जोस्ट है, जहाँ से मैं मुह डालके देखने लगा. वहां से मुझे बस उसकी पीठ ही दिख रही थी और मुझे डर भी लग रहा था.

READ  कामवाली और उसकी बहनों को रखैल बनाया

जब मैं उसे देख रहा था, तो मेरी पॉकेट से एक कॉइन बाथरूम में गिर गया और उसने मुझे ऊपर देखा और वो मुझे देखकर स्माइल करने लगी. फिर, वो जल्दी से बाथरूम से निकल आई. उसने ब्रा और पेंटी भी नहीं पहनी थी. मैं भी शोर्ट में था और मेरा लंड ज्यादा ही लम्बा हो गया था. एकदम रॉक सॉलिड, फिर वो सीधे ही ऊपर आ गयी और मैंने उसे वहीँ पर पीछे से पकड़ लिया. मैं पीछे से उनके बूब्स मसलने लगा. बहुत जोर – जोर से उसके बूब्स मसलने लगा. वो भी अहहाह आअह्हाआअ करने लगी. जोर – जोर से सिसकिया लेने लगी. रात थी, तो मैंने बिना देरी किये उसके बूब्स मसलने लगा था और जोश में मैंने उसकी टॉप फाड़ दी और उसके निप्पल को नोच रहा था, मसल रहा था उसके बूब्स. फिर एक हाथ मैंने उसकी चूत पर रखा और उसकी शोर्ट गीली थी. मैं उसकी शॉर्ट्स के ऊपर से ही उसकी चूत को मसल रहा था और मेरा लंड उसकी गांड में टच हो रहा था. मैंने उसे वहीँ लिटाया और उसके बूब्स चूसने लगा, पागलो की तरह, तभी उसकी माँ की आवाज़ आई.

वो डर गयी और टेरेस पर उसकी २-३ टॉप सुखी हुई थी. उसने एक टॉप पहनी और अपना फ़ोन लिया और नीचे जाने लगी और मुझे आँख मार रही थी. फिर थोड़ी बाद, मैं भी नीचे गया, तो वो टी बना रही थी. मैंने उसे पीछे से पकड़ लिया और वो छुड़ाने लगी और कहने लगी, बस थोड़ी देर और इंतज़ार कर लो. उसने नीद की दवाई माँ की टी में डाल दी और उन्हें दे दी. और ३० मिनट में, वो सो गयी. उसने थोडा स्ट्रोंग मेडिसिन दी थी, तो आंटी सुबह तक नहीं उठने वाली थी. वो मुझे लेकर दुसरे रूम में चली गयी और मैंने उसे पकड़ लिया और उसके सारे कपडे उतार दिए और उसकी पूरी बॉडी को चूसने लगा. फिर उसने मेरे कपडे उतार दिए और मैं उसके बूब्स को मसल रहा था और वो मेरा लंड पकड़ कर हिला रही थी. मैंने उसे वाल के अगेंस्ट बैठा दिया और उसके मुह में लंड डाल दिया और उसके मुह को चोदने लगा. वो भी मज़े में चूत में ऊँगली करने लगी और लंड को पागलो की तरह चूसने लगी. मैं तो सातवे आसमान पर था. फिर मैंने उसे उठाया और उसकी टांगो के बीच में लंड डालकर हिलाने लगा. मैं उसके ऊपर आ गया था और उसके बूब्स को निचोड़ – निचोड़ कर चूसने लगा और मसलने लगा.

READ  घर के सारे मर्द चोदते है मेरी बेटी को – रंडी बना डाला मासूम को

वो पागलो की तरह चिल्ला रही थी और फिर १५ मिनट उसके दूध पीने के बाद, मैंने उसकी नेवल में जीभ डाल दी और अन्दर – बाहर करने लगा. वो मेरे सिर को दबाने लगी और बेग करने लगी, प्लीज फक मी. फक मी. फिर मैंने जीभ से उसकी चूत को सहलाना शुरू किया. मैंने उसको अपने मुह पर बैठा लिया और उसकी चूत के लिप्स को ओपन किया और अपने लिप्स से उसकी चूत के लिप्स को चूसने लगा. फिर अपनी जीभ को उसकी चूत में डाला… उफ्फ्फफ्फ्फ़.. क्या रसीली चूत थी. उसकी गीली चूत का रस मेरे मुह में जा रहा था. उफ्फ्फ्फ्फ्फ्फ्फ़ म्मम्मम्मम्म… वो चिल्ला रही थी.. उफ्फ्फफ्फ्फ़ अहहहा जिजिजिजिजिजीजी.. चाटो जान.. ऊऊफ़्फ़्फ़्फ़्फ़्फ़्.. अहाह्ह्ह्हह्ह्ह्हह और मैं जोर – जोर से उसकी चूत को चाटने लगा. फिर मैंने उसको ऊपर से नीचे करना शुरू किया और अपनी जीभ से उसकी चूत की चुदाई शुरू कर दी. वो स्क़ुइर्त करने लगी और चिल्लाने लगी आआआआआअह्हह्हह्हह्हह्हह अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्छ आअह्ह्ह्ह तेज और तेज उग्ग्ग्ग फ्फ्फ्फफफ्फ्फ्फ़ चोदो ना, मुझे चोदो और जोर से चोदो… मैंने उसे उठाया और उसका चूत का सारा रस चाटकर साफ़ कर दिया.

मैंने उसे लिटाया और टाँगे फैला दिया. मैं उसकी चूत पर लंड को रखा और वो तड़पने लगी. वो भी अपनी गांड – गांड उठाकर लंड को अपनी चूत में डालने की कोशिश कर रही थी. फिर, मैंने एक झटका मारा, तो वो चिल्ला उठी… निकालो इसे.. अहहहः .. बहुत दर्द हो रही है. मैंने उसका मुह बंद कर दिया और थोड़ी देर ऐसे लेटा रहा. फिर जब उसका दर्द कम हुआ, तो पूरा लंड डाल दिया और उसकी चूत को चोदने लगा. २५ मिनट तक मैं ऐसे ही चोदता रहा. फिर, मैंने उसको कुतिया बनाया और पीछे से उसकी चूत में लंड डाल दिया. वो चिल्ला रही थी मज़े में आआअह्हह्हह ऊऊऊऊईईईईइमा फ्फ्फ्फफ्फ्फ्फ़ जानन्न्न्नन्न और तेज प्लीज और तेज. मैंने उसको उठाया और गोद में बैठाया और झटके मारने लगा. उसको और ज्यादा मज़ा आने लगा और वो ३ बार झड चुकी थी. मेरी ४० मिनट चुदाई करने के बाद, मैं भी झड गया था और उसकी चूत में ही सब निकाल दिया. वो मेरे ऊपर आ गयी और मुझे किस करने लगी. उस रात, मैंने उसे २ बार और चोदा और जब तक वो इंडिया में रही, मैं उसे चोदता रहा. अभी भी वो मेरी साथ सेक्स चैट करती है.

Aug 28, 2016Desi Story
READ  गैंग बैंग चुदाई हुई माँ की

Content retrieved from: .

Related posts:

मम्मी और पड़ोसन आंटी का लेस्बिअन सेक्स देखा
जवान आया को चोदकर अपने जिस्म की भूख मिटाई और बेडरूम में जाकर उसकी ठुकाई की
रूपा की मस्त चुदाई
सुमन का सेल्फी सेक्स
पड़ोसन के साथ होली में बीवी की बदली
गर्लफ्रेंड के घर पर चुदाई
दोस्त की बहन को पटाया
Tuition wali aunty ki chudai
Jija ne apni sali ko seduce kar ke choda
Sunita bhabhi ne paraya lund liya – Hot Hindi sex kahani
रीना भाभी की मस्त चुदाई
Dost ki wife ko choda – Indian sex kahani
बरसात की रात दोस्त की माँ के साथ
बॉडी मालिश और खड़े लंड को मिली चूत
गरम चूत वाली नेता की बीवी
जमकर चुदाई की अपनी माँ की चूत
दोस्ती में हो गयी चूत की और लंड की मस्ती
ऑफिस में सेक्रेटरी की गांड मारी
परदेशी चूत - Desi Sex KhaniyaDesi Sex Khaniya
जब मैंने पहली बार डलवाया
गालियों वाली चूत चुदाई - Desi Sex KhaniyaDesi Sex Khaniya
गैर मर्द से पहली बार चुदाई की कहानी
As told by my brother
My Sexy Colleague | Sex Story Lovers
My Sexy Friends Friend Urmila
चोदू चौकीदार की फ्री चुदाई स्टोरी
पहली बार गांड मरवाई शालिनी ने
कबाड़ी के खेल में गांड मरवाई
मोबाइल की दूकान में लड़की को चोदा घोड़ी बना के
मैंने उनको कहा कि चाहे आज मेरी चूत ही क्यों ना फट जाए, मुझे कितना ही दर्द हो में तड़प जाऊ, लेकिन जानू...

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *