HomeSex Story

ऑफिस वाली को जमकर चोदा

Like Tweet Pin it Share Share Email

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम आकाश है और में गुजरात का रहने वाला हूँ. मेरी इस साईट पर यह पहली स्टोरी है. अब में पहले आपको अपने बारे में बता दूँ. मेरी उम्र 25 साल है, हाईट 6 फुट, में गोरे रंग का हूँ और बॉडी भी ठीक-ठाक है, मेरे लंड की साईज़ 7 इंच है. में इस साईट का नियमित पाठक हूँ और काफ़ी कहानियाँ पढने के बाद मैंने सोचा कि क्यों ना में भी खुद का एक रियल अनुभव शेयर करूँ.

यह कहानी आज से 2 साल पहले की है, मेरे साथ एक लड़की काम करती थी और उसका नाम अंजू था, अंजू दिखने में बहुत खूबसूरत थी और उसका फिगर भी कमाल का था. वो दिखने में एकदम गोरी और बड़े-बड़े बूब्स थे और में उसके बूब्स का दीवाना था. अंजू ऑफिस में किसी से बात नहीं करती थी और किसी भी लड़के को पसंद नहीं करती थी. वो पहले-पहले मुझसे अकड़ कर बात करती थी, लेकिन एक दिन उसे मुझसे कुछ काम पड़ा तो उसने एटिट्यूड की वजह से पहले तो मुझे नहीं बोला, लेकिन बाद में उससे काम नहीं हुआ, इसलिए उसने मुझसे कहा.

अंजू : आकाश क्या तुम मेरी मदद करोगे?

में : या शॉर वाई नोट?

अंजू : यार ये फाईल मुझसे डाउनलोड नहीं हो रही है.

में : में चेक करता हूँ.

अब जैसे ही में उसके करीब गया तो वो थोड़ा पीछे हट गयी, में तो यू भी काम ही कर रहा और मेरे हाथ में माउस था कि अचानक उसने मेरे हाथ पर हाथ रखा और कहा कि ये वाली फाईल डाउनलोड नहीं हो रही है. अब मेरे तो शरीर में जैसे बिजली सी दौड़ गयी, उसके क्या मुलायम हाथ थे? फिर मैंने उसका काम ख़त्म किया और अपनी जगह पर जाकर बैठ गया. फिर जब वो शाम को घर जा रही थी तो उसने जाते जाते मुझे थैंक्स कहा और मैंने कहा कि कोई बात नहीं, आख़िर दोस्त हेल्प करने के लिए ही तो होते है.

फिर उसने मुझे एक स्माईल दी और चली गयी. फिर थोड़े दिन के बाद उसने मुझे फिर से किसी दूसरे काम से बुलाया और इस बार वो पीछे नहीं हटी. अब में खड़े-खड़े की-बोर्ड पर काम कर रहा था तो मेरी कोहनी उसके बूब्स को टच हो रही थी, तो उसने मुझे कुछ नहीं कहा, लेकिन जब मैंने उसके सामने देखा, तो उसने एक नॉटी सी स्माईल दी.

फिर कुछ ही दिनों में हमारी अच्छी दोस्ती हो गयी और हमने अपने नंबर भी एक्सचेंज किए और मेरे ही कहने पर उसने एक स्मार्ट फोन खरीदा, ताकि हम व्हाटसअप पर बात कर सके. फिर हम घर पर जाते ही चैट करते, अब ये सिलसिला रोज़ का हो गया था. एक दिन अचानक ही उसने मुझसे पूछा क्या तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है? तो मैंने कहा नहीं तो उसने कहा झूठ मत बोलो.

READ  My Diary [Part 2] - Sucksex

फिर मैंने कहा कि मेरा यकीन करो मेरे कोई गर्लफ्रेंड नहीं है तो वो बाद में मान गयी. फिर कुछ दिन के बाद उसने मुझे अचानक से कहा कि में तुम्हें पसंद करने लगी हूँ. फिर मैंने कहा कि में भी तुम्हें काफ़ी समय से पसंद करता हूँ, लेकिन कहने की हिम्मत नहीं हो रही थी. फिर तो वो मुझसे ऑफिस में बहुत फ्रेंक हो गयी थी और बहुत मज़ाक करती, अब हम लोग कॉफी पीने, शॉपिंग करने साथ जाते थे.

एक दिन मेरे घरवाले एक प्रोग्राम में आउट ऑफ स्टेट गये, उन लोगों का प्रोग्राम 7 दिन का था. मुझे ऑफिस में से छुट्टी नहीं मिली तो में घर पर ही रुक गया. फिर जैसे ही मेरे घरवाले चले गये तो मैंने अंजू से कहा कि चलो आज रात के शो में मूवी देखने चलते है. पहले तो उसने मना कर दिया और उसने कहा कि उसके घरवाले नहीं मानेगें. फिर मैंने उसे थोड़ा फोर्स किया तो उसने कहा कि वो कोशिश करेगी और फिर दोपहर को उसने मुझसे कहा कि उसके घरवाले मान गये और मेरा खुशी का ठिकाना नहीं रहा.

फिर मैंने दो कॉर्नर की सीट ली और हम रात को मूवी देखने चले गये, उसने अपने घर पर कहा कि वो अपनी एक बहुत अच्छी फ्रेंड के साथ जा रही है. फिर जब हम मूवी देख रहे थे तो मैंने उसका हाथ पकड़ा और बाद में उसके कंधे पर हाथ रखा तो उसने मुझे एक स्माईल दी और कुछ नहीं कहा. फिर मैंने अचानक से उसके गाल पर किस कर ली तो उसने मुझे ऐसा करने से रोका और में वहीं रुक गया और उसने मुझे कहा कि वो बुरा मान गयी है.

फिर हम जैसे ही थियेटर के बाहर निकले तो उसने मेरे सामने देखा और कहा कि अंदर बहुत रोमांटिक बन रहे थे तो मैंने एक स्माईल दे दी. फिर हम वहाँ से चल दिए तो अचानक से उसे चक्कर आने लगे और अब उसे अच्छा महसूस नहीं हो रहा था तो उस थियेटर से मेरा घर नज़दीक था और वैसे भी मेरे घर पर कोई नहीं था तो में उसे अपने घर ले गया.

फिर मैंने उसे मेरे रूम में सुलाया और दवाई दी और मैंने उससे कहा कि वो आज की रात यहीं सो जाए और घरवालों को बता दे कि वो अपनी फ्रेंड के यहाँ रुक रही है, क्योंकि रात बहुत हो चुकी थी. फिर उसने अपने घर पर फोन कर दिया और फोन रखने के बाद उसने मुझसे कहा कि उसके पास नाईट ड्रेस तो नहीं है. फिर मैंने उसे अपनी शॉर्ट्स और टी-शर्ट दे दी. फिर वो जैसे ही चेंज करके आई तो क्या कयामत लग रही थी? उसके पैर और जांघे एकदम सेक्सी लग रही थी. अब में उसे एक नज़र देखता ही रह गया. फिर मैंने अपना नाईट ड्रेस पहन लिया और उससे कहा कि थियेटर में अगर उसने मुझे रोका नहीं होता तो आज बहुत कुछ हो जाता.

READ  Beautiful anal sex - Sucksex

फिर उसने कहा कि अच्छा ऐसा क्या करते तुम? तो मैंने उसे अपनी आँखे बंद करने को कहा और उसने जैसे ही अपनी आँखे बंद की तो में उसके करीब गया और उसे एक ज़बरदस्त स्मूच किया. फिर उसने अपनी आँखे खोली और कहा कि बस इतना ही करना था क्या? ये सुनते ही में एकदम जोश में आ गया और मैंने उसे उठाया और अपने रूम में ले गया और करीब 15 मिनट तक स्मूच की. अब वो भी मेरा साथ दे रही थी और में उसके बूब्स टी-शर्ट के ऊपर से दबा रहा था. अब वो बड़ी मदहोशी से मुझे किस कर रही थी.

फिर मैंने उसकी टी-शर्ट को उतार दिया. अब वो मेरे सामने ब्रा और शॉर्ट्स में थी और अब में उसके बूब्स को ब्रा के ऊपर से किस कर रहा था और फिर मैंने उसकी ब्रा और शॉर्ट्स उतार दिए. दोस्तों पिंक पेंटी में वो क्या लग रही थी? अब उसने मेरा टी-शर्ट और पजामा उतार दिया. मैंने अंदर कुछ नहीं पहना था तो उसने मेरा लंड अपने हाथ में लिया और सहलाने लगी.

अब मैंने उसकी पेंटी उतारी और उसे सुला दिया. फिर मैंने उसे किस करना स्टार्ट किया और फिर से हमारा किस बहुत लंबा चला और फिर में उसकी गर्दन पर किस करते-करते नीचे आया और बूब्स को किस करता रहा. अब में काफ़ी देर तक उसके बूब्स चाटता रहा और फिर में थोड़ा नीचे गया और उसकी नाभि में अपनी जीभ डाली तो अब वो पागल सी हो रही थी और ज़ोर-ज़ोर से, अहहह्ह्ह आहह कम ऑन और करो और करो बोल रही थी. फिर मैंने उसकी चूत में अपनी जीभ डाली और चाटना शुरू किया.

फिर वो एकदम गर्म हो गयी और मेरा सर अपनी चूत में दबाने लगी. अब में उसकी चूत में अपनी जीभ अंदर बाहर कर रहा था कि उसका पानी निकल गया और में उसका पूरा पानी पी गया, क्या स्वादिष्ट पानी था उसका? अब में उसे अपना लंड मुँह में लेने को बोला. फिर वो उठी और पहले तो मेरे लंड को सहलाने लगी और फिर उसने मेरा पूरा लंड अपने मुँह में ले लिया. अब वो मेरे लंड को चूस भी रही थी और चाट भी रही थी, वो जैसे एक छोटा बच्चा लॉलीपोप चूसता हो वैसे ही मेरा लंड चूस रही थी.

READ  औरंगाबाद में चुदाई के मजे

अब मैंने उसे बेड पर सुलाया और अपना लंड उसकी चूत पर रखा तो अब वो बोल रही थी कि जल्दी डालो आकाश जल्दी डालो, अब मुझसे कंट्रोल नहीं होता, मुझे इतना मत तड़पाओ. फिर मैंने एक धक्के में ही अपना पूरा लंड उसकी चूत में अंदर डाल दिया तो वो एकदम से चीख पड़ी और कहने लगी कि जल्दी उसे बाहर निकालो. फिर मैंने उसके मुँह पर अपना मुँह रख दिया और कुछ देर तक ऐसे ही पड़ा रहा. फिर में हल्के-हल्के अपने झटके तेज करने लगा और उसे खूब चोदा. इतनी देर में उसका एक और बार छूट चुका था, अब मेरा अभी निकलना बाकी था तो मैंने उसे डॉगी स्टाईल में आने को बोला और फिर उसे उस स्टाईल में चोदा. अब मेरा जैसे ही निकलने वाला था तो मैंने उससे पूछा कि कहाँ निकालूँ? तो उसने कहा कि अंदर ही डाल दो.

फिर मैंने उसकी चूत में ही अपना पानी छोड़ दिया और हम कुछ देर तक ऐसे ही पड़े रहे. उस रात हमने 3 बार और सेक्स किया और मैंने उसे अलग-अलग स्टाईल में चोदा. फिर हम साथ में नहाने चले गये और वहाँ भी मैंने उसे शॉवर के नीचे चोदा.

Aug 12, 2016Desi Story

Content retrieved from: .

Related posts:

My darling Priya | Sex Story Lovers
राखी बहन ने चोदना सिखाया
माँ के साथ आगे की बात
Sex With Sexy Cousin - Indian Sex Stories
Horny Nearby Shop Aunty Drilled Hard
First Intimate Relationship - Indian Sex Stories
Dream Fulfilled In Bangalore - Indian Sex Stories
A Relation In Mutual Interest
Aunty Took My Virginity - Indian Sex Stories
The Green Room Behind The Stage
My Incestuous Journey - Indian Sex Stories
Sex-tale Of A Widow - Indian Sex Stories
Fucked My Sexy Neighbour - Indian Sex Stories
Sex With Next Door Aunty
Meri Mallu Mummy Leela Part 10
Mera Student Aur Uski Maa
Blackmailed Teacher Mom - Indian Sex Stories
गांड मे अंकल का मोटा लंड लिया • Hindi sex kahani
Lucky Partner From WhatsApp - Indian Sex Stories
मैं कैसे एक चुड़दकड़ बन गयी • Hindi sex kahani
मासूम बहन की जवानी लूटी • Hindi sex kahani
बीवी और उसके पति को मोटे लंड से चोदा • Hindi sex kahani
भाभी की गांड बहन के सामने चोदी • Hindi sex kahani
मेरी छोटी बहन की छोटी वर्जिन चूत • Hindi sex kahani
The night my dick was all excited
My First Threesome - Sucksex
Indian Girls From An Adult Sex Line Fucked
Young Gigolo Enjoys Hot Cunt Of Indian Woman
With a milf - Sucksex
Molding him - Sucksex

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *