HomeSex Story

गर्लफ्रेंड के घर पर चुदाई

Like Tweet Pin it Share Share Email

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राज है और में बेंगलोर में इंजिनियरिंग की पढ़ाई कर रहा हूँ. में दिखने में सामान्य हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 7 इंच है और मेरे लंड का साईज़ 7 इंच है, जो कि किसी भी लड़की या औरत को संतुष्ट करने के लिए काफ़ी है. ये मेरी सच्ची कहानी है और ये तब की है जब में अपने कॉलेज की छुट्टियों में घर आया हुआ था. में और मेरी गर्लफ्रेंड फोन पर रोज बात किया करते थे. हम लोगों ने बहुत बार फोन सेक्स भी किया है. मेरी गर्लफ्रेंड का नाम सिमी है और वो बहुत ही अच्छी दिखती है और उसका फिगर साईज़ 34-28-36 है, में रोज उसे मिलने के लिए बुलाता था, लेकिन जगह नहीं होने के कारण वो हर बार मना कर देती थी.

एक दिन उसने मुझे कॉल किया और बोली कि आज मेरी मम्मी और भाई दोनों ही घर पर नहीं रहेंगे. फिर वो बोली कि क्या तुम मेरे घर आ सकते हो? फिर मैंने उसे कहा हाँ क्यों नहीं? फिर तब में नहाकर उसके घर चला गया और फिर वो मुझे अंदर लेकर आई. फिर मैंने उसे किस किया और उसने भी मुझे किस किया. फिर उसने मुझे बैठने के लिए बोला और वो भी मेरे पास बैठ गयी, अब में एक हाथ से उसकी पीठ सहलाने लगा और फिर में अपना हाथ नीचे ले जाने लगा तो वो काफ़ी टाईट जीन्स पहनी थी. फिर में उसके बूब्स को टच करने लगा और अब वो गर्म होने लगी थी. मैंने उसकी टी-शर्ट को खोल दिया, उसने अन्दर काले कलर की ब्रा पहनी थी. अब उसके गोल-गोल बूब्स मेरे लंड को और भी खड़ा कर रहे थे, में उसकी ब्रा खोलने लगा, लेकिन वो मुझसे नहीं खुल रही थी तो में बोला ब्रा फाड़ देता हूँ. फिर वो बोली कि मम्मी को शक हो जायेगा, तब उसी ने खुद अपनी ब्रा खोल दी और में एक हाथ से उसके बूब्स को ज़ोर से दबाने लगा और दूसरा हाथ उसकी पेंटी में डालने लगा तो उसकी चूत थोड़ी गीली हो गयी थी.

फिर मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और में उसके गले के पास किस करने लगा. फिर मैंने उसके बूब्स को अपने मुँह में ले लिया और उसको मज़े से चूसने लगा. अब उसके मुँह से सिसकियों की आवाज़ आने लगी थी, अब वो मेरा मुँह अपने बूब्स पर दबाने की कोशिश करने लगी थी. में उसकी जीन्स खोलने लगा था और उसने पिंक कलर की नेट वाली पेंटी पहनी थी. फिर मैंने उसकी पेंटी को भी खोलकर फेंक दिया और उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था. अब वो अपने बेड पर पूरी तरह से नंगी थी. फिर में उसके बूब्स से थोड़ा नीचे उसके पेट के पास किस करने लगा तो उसका पूरा बदन अकड़ने लगा था और वो मेरा लंड लेना चाह रही थी, जो कि तंबू की तरह जीन्स में खड़ा था. फिर उसने मेरी टी-शर्ट निकाली और मेरे बदन को चूमने लगी.

READ  पति से नहीं भाई से संतुष्ट हुई

फिर मैंने अपनी जीन्स को भी खोल दिया और मैंने अंडरवियर नहीं पहनी थी. वो मेरे लंड को घूरे जा रही थी और फिर में उसे लंड को चूसने के लिए बोलने लगा, लेकिन वो मना कर रही थी और वो कुछ देर के बाद मान गयी, वो मेरे लंड को चूस रही थी. में कभी-कभी उसके मुँह में अपना लंड अंदर तक डाल देता था. फिर मैंने उसको 69 की पोज़िशन में आने के लिए बोला. हम दोनों एक दूसरे को बहुत मज़ा दे रहे थे और में अपनी जीभ को उसकी चूत के बहुत अंदर तक डाल रहा था जिसके कारण वो 2 बार मेरे मुँह में ही झड़ गयी थी. फिर मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और अपने लंड को उसकी चूत में डालने लगा, उसकी चूत बहुत टाईट थी, लेकिन चूत गीली होने की वजह से मैंने तेल का इस्तेमाल नहीं किया. फिर में अपने लंड को उसकी चूत के ऊपर सहलाने लगा तो उसे भी बहुत अच्छा लग रहा था.

फिर मैंने धीरे से अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया तो वो चिल्लाने लगी और में वहीं रुक गया और उसे किस करने लगा, वो भी मुझे किस कर रही थी और में धीरे-धीरे अपने लंड को आगे पीछे करने लगा था तो उसे थोड़ा-थोड़ा दर्द हो रहा था, लेकिन मेरे किस करने की वजह से वो चिल्ला नहीं पा रही थी. फिर 5 मिनट तक इसी तरह से करने के बाद उसका दर्द कम हुआ तो वो भी मेरा साथ देने लगी. में एक हाथ से उसके बूब्स को मसलने लगा और ज़ोर-ज़ोर से धक्के मारने लगा तो वो भी ज़ोर-ज़ोर से अपनी गांड उछालने लगी और वो अपने मुँह से आआहहह अहहा की आवाज़ निकालने लगी. फिर मैंने उसे डॉगी स्टाईल में होने को कहा. फिर में उसकी गांड को पकड़कर ज़ोर-ज़ोर से चोदने लगा. वो बोल रही थी और अंदर डालो, चोद दो, मुझे जन्नत की सैर करा दो और ज़ोर से अया आहह उम्म्म्म उम्म्म आ. वो झड़ने वाली थी और में उसे ज़ोर-जोर से चोदे जा रहा था तो उसने बोला में झड़ रही हूँ और ज़ोर से उम्म्म अया आआहहह में झड़ गयी.

READ  पति से नहीं भाई से संतुष्ट हुई

फिर मैंने अपनी स्पीड थोड़ी कम कर दी तो मेरे लंड का बुरा हाल हो रहा था और में उसके एक पैर को अपने कंधे पर लेकर चोदने लगा. वो फिर से ज़ोर-ज़ोर से आवाज़ निकालने लगी और में अपने धक्के की स्पीड तेज करने लगा और 10 शॉट मारने के बाद मुझे लगा कि में झड़ने वाला हूँ. फिर मैंने उससे पूछा कि कहाँ निकालूँ? तो वो बोली मेरे चेहरे पर निकाल दो. फिर उसने मेरा लंड पकड़कर सारा माल अपने चेहरे पर गिरा लिया. हम दोनों को बहुत मज़ा आया और वो मेरे बगल में ही लेट गयी और में उसकी बॉडी से खेलने लगा, कभी उसके पैरों के बीच में अपना लंड फंसा देता तो कभी उसके बूब्स के बीच में अपना लंड फंसा देता. वो भी मेरा साथ दे रही थी और मेरा लंड एक बार फिर से खड़ा होने लगा था. फिर मैंने अपना लंड उसके मुँह में डाल दिया. वो इस बार उसे लॉलीपोप की तरह चूस रही थी, मेरा लंड बिल्कुल खड़ा हो गया था और इस बार मुझे उसकी गांड मारने का मन कर रहा था. फिर मैंने उसे कोई क्रीम लाने को कहा तो वो तुरंत क्रीम लेकर आ गयी.

फिर में उसे बोला कि थोड़ी सी क्रीम मेरे लंड पर लगा दो तो उसने वैसा ही किया. फिर मैंने उसे बिस्तर पर उल्टा लेटने को कहा तो वो मान गयी. फिर मैंने उसकी गांड के छेद में थोड़ी सी क्रीम लगाई और अपने लंड को उसकी गांड के छेद पर रख दिया तो वो मना करने लगी. फिर मैंने उसके बूब्स से खेलना स्टार्ट कर दिया और उसके निप्पल को ज़ोर-जोर से दबाने लगा और उसकी चूत में उंगली करने लगा. वो फिर से गर्म होने लगी थी और फिर मैंने इसी का फ़ायदा उठाते हुए एक ज़ोर के धक्के से अपना लंड उसकी गांड में पेल दिया. उसे दर्द होने लगा था तो में रुक गया और उसकी चूत में फिर से उंगली करने लगा. में धीरे-धीरे उसकी गांड में अपना लंड डालने की कोशिश करने लगा था और अभी मेरा लंड आधा ही अंदर गया था तो मैंने फिर थोड़ी सी क्रीम ली और उसकी गांड के छेद के पास लगा दिया. फिर मैंने एक ज़ोर का शॉट मारा और मेरा लंड उसकी गांड में पूरा चला गया.

वो दर्द के मारे चिल्लाने लगी. फिर मैंने 5 मिनट के बाद धक्के लगाना स्टार्ट किया, उसका दर्द कुछ कम हो गया था तो में अपनी स्पीड तेज करने लगा. मेरी स्पीड बढ़ने के साथ-साथ वो मज़े लेने लगी थी और वो बोल रही थी कि इस गांड को फाड़ दो, इसे चोद दो, मज़े लेकर चोदो आअहह उफफफफ्फ़ औरर्र औरर्र हाँ और उम्म्म्मम बहुत मज़ा आ रहा है, अपने लंड को पूरा अंदर डालो. उसकी गांड का छेद छोटा होने के कारण मेरा लंड जल्दी झड़ने वाला था, में 8-10 धक्को के बाद उसकी गांड में ही झड़ गया और में थोड़ी देर तक उसी के ऊपर ही लेटा रहा. फिर उसकी गांड मारने के बाद में थक गया और में अपने कपड़े पहनने लगा और वो भी अपने कपड़े पहनने लगी. फिर मैंने उससे कहा कि अब में जा रहा हूँ. फिर उसने मुझे आई लव यू कहा और किस किया तो मैंने भी उसे लव यू टू कहा और फिर बाय बोलकर निकल गया. अबी जब भी में छुट्टियों में घर आता हूँ तो उससे मिलता और उसकी बहुत अच्छे से चुदाई करता हूँ.

Aug 15, 2016Desi Story
READ  Jungle Mai Mangal - Indian Sex Stories

Content retrieved from: .

Related posts:

स्कूल टूर पर मुझे मिली मेरी पसंद की चूत
Chikni chuto ko chatne ka sawad liya
जीजू की छोटी बहन की चुदाई
नौकरी के बदले चुदाई का ऑफर दिया
भाबी के गांड में मेरी लंड
गालियों वाली चूत चुदाई - Desi Sex KhaniyaDesi Sex Khaniya
Friend Ki Badi Bahen Ne Meri Chudai Kardali - Part ii
लंड का करंट दिया भाई ने और फिर चोद दिया कपडे उतार के
Priti Miss, First Sex Teacher Of Sumit
Hubby Ke Friends Kiya Brutal Gangbang Part - 3
Priya Ko Shaadi Se Pahle Honeymoon Experience
First Intimate Relationship - Indian Sex Stories
Office Hr Preeti - Indian Sex Stories
Sexy Neighbour Bhabhi - Indian Sex Stories
Gf Ko Jungle Me Choda
Saasu Ji Ki Chudai Part 2
My Friend, Mother And My Servant
Marvelous Mami - Indian Sex Stories
Melancholic Nights With Granny - Indian Sex Stories
Start Of Incest Journey With Shalini Didi Part - 5
Love For Girl's Body - Indian Sex Stories
Mausi Ko Jam Ke Choda
Hyderabad Group Fucking Inside Flat
पड़ोस की जवान लड़की की चुदाई • Hindi sex kahani
Sex With Woman Through Social Site
मेरे पति के भाई ने मेरी चुत की चुदाई करके प्यास बुझाई
भाभी की बहाने से चुदाई • Hindi sex kahani
A Drive Outside The City - A passionate Desi car sex story
Indian Desi Sex with hot and busty maid Sneha
Surprise on a cold day

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *