HomeSex Story

चुदाई की क्लास ली बहन की

चुदाई की क्लास ली बहन की
Like Tweet Pin it Share Share Email

हेलो फ्रेंड्स, आई एम् विकी और मैं एक बार फिर से आपके सामने स्टोरी लेकर हाज़िर हुआ हु  मुझे आप लोगो से बहुत अच्छा रेस्पोंस मिला मेरी पहली स्टोरी पर. आप लोगो के प्यार भरे रेस्पोंस देख कर मुझे अच्छा लगा और मुझ में फिर से कहानी लिखने का मोटिवेशन मिला. अब मैं आप लोगो को ज्यादा बोर ना करते हुए, सीधे स्टोरी पर आता हु. ये बात कुछ २० दिन पहले की है. जब मैं घर वापस आया था. मैं ६ महीने के बाद वापस आ रहा था. तो सब लोग बहुत खुश थे मुझसे. जब मैंने अपनी कजिन सिस्टर को देखा, तो मैं हैरान रह गया. उसका नाम ज्योति है और वो १८ साल की है और वो १२थ क्लास में पढ़ रही है. उसका रंग ज्यादा गोरा भी नहीं और काला भी नहीं है. लाइक ब्राउन कलर है. पहले मैं उसके बारे में कभी भी गलत नहीं सोचता था.

मैं उसे सिर्फ एक छोटी ही बहन समझता था. लेकिन ६ मंथ में वो बिलकुल बदल गयी थी. उसके बूब्स बड़े हो गये थे और वो लम्बी भी हो गयी थी. इसलिए वो बहुत ही सेक्सी दिख रही थी. वो जब मेरे घर पर आई मुझे मिलने के लिए, तो उसने मुझे गले से लगा लिया और बोली – भैया मैंने बहुत मिस किया आपको…

तो मैंने भी उसे हग किया और अपने आप को कण्ट्रोल किया. उसके सॉफ्ट बूब्स मेरी छाती से टच हो रहे थे. मेरा लंड एकदम खड़ा हो गया. शायद उसको मेरे लंड की हरकत फील हो गयी थी और उसे मेरे लंड का कड़ापन महसूस हो गया था, तो वो एकदम से दूर हो गयी मुझ से. फिर ऐसे ही इधर – उधर की बातें करने लगे. फिर उसकी मम्मी भी आ गयी मुझ से मिलने. तो उसकी मम्मी ने उसको बोला, कि इस बार ज्योति का रिजल्ट बहुत ख़राब आया था. तो इसको पढ़ा दिया करो. मैंने बोला – ओके आंटी जी. मैं कौन सा ज्यादा दिन रुकुंगा यहाँ पर. आप इसकी ट्यूशन रखवा दो कहीं. बट आंटी बोली, कि नहीं तू ही इसकी ट्यूशन कर दे, जितने भी दिन तू यहाँ पर है. तो फिर मेरे भी मन में उसको चोदने का ख्याल आ गया और मैंने आंटी को बोला – ठीक है. उन्होंने कहा – आज तू रेस्ट कर ले. कल से ज्योति आ जायेगी तेरे पास रोज शाम को… तो नेक्स्ट डे से ज्योति मेरे पास पढ़ने के लिए आने लगी… घर पर सिर्फ मैं और माँ ही थे.

माँ भी किसी काम से बाहर चले गये. तो मैं तो ज्योति ही रह गये घर में. मैंने अपने फ़ोन में एक पोर्न फिल्म डाउनलोड कर के रखी थी. मैंने जान बुझ कर फ़ोन ज्योति के पास रख दिया और मैं बाथरूम चले गया. तो ज्योति ने मेरा फ़ोन देखा और ओपन करके गैलरी देखने लगी. मैं बथरू, से बाहर आकर चुपके से उसे देख रहा था. शायद वो पोर्न मूवी ही देख रही थी. फिर मैंने थोड़ा दरवाजा हिलाया, तो उसने एकदम से मूवी को बंद कर दिया. फिर मुझे देख कर वो शायद थोड़ा शरमा रही थी. मुझे पता चल गया था, कि वो पोर्न ही देख रही थी. फिर वो बोली – भैया आपका फ़ोन बहुत ही नाइस है. मैंने बोला – थैंक्स. फिर मैंने उसे २ घंटे पढाया और वो घर चली गयी. फिर नेक्स्ट डे वो आई और मैंने अपने फ़ोन में ब्राउज़र खोल कर एक सेक्सी कहानी जिसमे बहन की चुदाई की कहानी थी, खोल कर ज्योति के पास रख कर बाहर चले गया. उसने फ़ोन उठाया और ब्राउज़र खुला देख कर वो स्टोरी पढ़ने लगी.

READ  आदमी के लंड से भी ज्यादा मज़ा दिया कुत्ते ने

मैं १५ मिनट के बाद जब वापस आया, तो वो स्टोरी ही पढ़ रही थी. मैं उसके पास खड़ा हो गया और वो मुझे देख कर डर गयी और फ़ोन रख दिया. मैंने बोला – क्या देख रही थी? वो बोली – कुछ नहीं भैया.. बस आपका फ़ोन देख रही रही थी.. आपके फोटो देख रही थी. फिर मैंने उसको बोला – इसमें बहुत कुछ है.. ऐसा वैसा कुछ तो नहीं देख लिया इसमें? वो बोली – क्या ऐसा – वैसा है इसमें? मैं बोला – वहीँ, जो तुम कल देख रही थी.. वो एकदम चुप हो गयी और बोली – भैया आज मैंने आपके फ़ोन में बहन के साथ सेक्स वाली कहानी पड़ी. मैंने पूछा – तो कैसा लगा पढ़ने के बाद..? वो बोली – भैया मेरा भी मन सेक्स करके को करता है. मैं बोला – अगर तुम चाहो.. तो मैं तुम्हे सेक्स के मजे दे सकता हु. वो बोली – अगर किसी को पता चल गया तो.. बहुत पंगा हो जाएगा. मैंने कहा – कुछ नहीं होगा. तुम अपनी माँ को बोल दो, कि आज मैं भैया के घर पर रुकने वाली हु और वहीं सो जाउंगी. बाकी मैं संभाल लूँगा… उसने ऐसे ही किया..

उसकी मम्मी आई, तो उसने बोल दिया; कि मम्मी आज मैं नाईट तक पडूँगी और रात को आंटी के साथ सो जाउंगी. उसकी मम्मी ने एस बोल दिया. मैं बाज़ार गया और स्लीपिंग पिल्स और कंडोम ले आया. फिर मैंने माँ के खाने में स्लीपिंग पिल्स मिला दिए. मम्मी जल्दी ही सो गए. फिर मैं और ज्योति जागते रहे. मैंने फटाफट से पोर्न मूवी लगा दी और ज्योति को अपने पास बुला लिया. वो डर रही थी. लेकिन वो पोर्न फिल्म देख कर मस्त हो गयी थी. फिर मैंने उसे किस करना शुरू कर दिया और वो भी मेरा साथ दे रही थी. फिर मैंने उसके बूब्स प्रेस किये और वो बिलकुल मदहोश हो गयी थी. मैं भी पहली बाद किसी १५ साल की लड़की के बूब्स प्रेस कर रहा था. फिर मैंने उसके कपड़े उतार दिए. वो शरमा रही थी और अपनी चूत को छुपा रही थी. फिर मैंने उसके बूब्स चूसने शुरू कर दिए और वो सिसकिया लेने लगी थी और मुझे जोर – जोर से हग कर रही थी. फिर मैं धीरे – धीरे उसकी चूत पर आ गया और उसके थाई पर किस किया.

READ  घर के बगल की भाभी के साथ सेक्स

फिर उसकी लेग ओपन करके उसकी चूत को स्मेल किया. उसकी चूत गीली हो चुकी थी. मुझे उसकी चूत की स्मेल बहुत अच्छी लगी. मैंने उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया. वो एकदम से उछल पड़ी. और मेरा मुह अपनी चूत पर दबाने लगी. मुझे भी उसकी चूत का रस बहुत मज़ा दे रहा था. फिर मैंने देर ना करते हुए, अपने कपड़े खोल दिए और मेरा ६ इंच का लंड देख कर वो बोली – भैया, ये तो बहुत ज्यादा बड़ा है. मुझे डर लग रहा है. मैंने उसे समझाया, कि कुछ नहीं होगा. फिर मैंने उसे अपना लंड चूसने को कहा, लेकिन उसने मना कर दिया. मैंने भी ज्यादा फ़ोर्स नहीं किया. फिर मैंने कंडोम लगाया और ज्योति को लेटने को कहा. फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रखा और उसने अपने हाथ से मेरे लंड को अपनी चूत के अन्दर कर दिया. थोड़ा सा जोर लगाने से लंड अन्दर चले गया. वो एकदम से चिल्लाने लगी हहहः अहहः अहहहः अहहः ऊऊऊऊऊऊओ जोर से चोदो…. और जोर से मेरा पूरा लंड उसकी चूत में एक ही बार में घुस गया था.

मेरे बड़े लंड के होने के बावजूद उसकी चूत मेरे लंड को बड़े ही आराम से खा गयी थी और मेरा लंड बड़ा था और वो उसकी जड़ तक जाकर अब टकराने लगा था. और फिर चुदाई का मज़ा लेने लगी. मुझे पता चल गया था, कि वो वर्जिन नहीं थी. मैंने उसको पूछा – पहले भी चुदी हो क्या.. तो उसने स्माइल करते हुए हाँ में सिर हिला दिया. लेकिन उसने कहा – वो बाद में बताउंगी. और फिर बोलने लगी… भैया आब बहुत अच्छा चोदते हो.. बहुत जोर का.. मुझे बड़ा मज़ा आ रहा है और भी जोर से करो ना.. अपने लंड को और भी जोर से मेरे अन्दर डालो. उसकी बातो को सुनकर मुझे भी मज़ा आने लगा था और मुझे भी बहुत जोर का जोश चढ़ गया था. मैंने अब उसको बहुत कस कर पकड़ लिया था और अपने आप को अपनी गांड को बहुत तेजी से हिला रहा था और मेरा लंड सटासट अन्दर बाहर होने लगा था.

मुझे लग रहा था, कि वो बहुत ही जोरदार माल है और वो भी अपनी गांड को हिला कर मेरे हर धक्के का जवाब पूरी तेजी से दे रही थी. वो भी अपनी गांड बहुत तेजी से हिला रही थी और मेरा लंड उसकी चूत में थप – थप की आवाज़ के जाकर उसकी बच्चेदानी को टक्कर मार रहा था. हम दोनों की ही कामुक आवाज़े पुरे कमरे में गूंज रही थी अहहाह अहहः अहहहहः ऊऊऊओ ऊओओओं और जोर से और जोर… दोस्तों, कसम से बहुत ही मज़ा आ रहा था… मुझे नहीं पता था, कि मेरी कजिन इतनी सेक्सी और गरम है… और फिर मेरी गांड तेज हिलनी शुरू हो गयी और उसका शरीर भी बहुत तेज हिल रहा था.

READ  रात भर मुझसे चुदवाई और धमकी

फिर २ओ मिनट की चुदाई के बाद में, मैं झड गया. वो भी झड चुकी थी. उसने मेरा कंडोम उतार कर मेरे लंड को चुसना शुरू कर दिया और मेरे सारे माल को चाट गयी. फिर मैंने भी उसकी चूत के पानी को चाटा. फिर उसने बताया, कि वो पहले ही अपने क्लास के एक लड़के से होटल में जाकर अपने को चुदवा चुकी है. फिर मैं एक मंथ तक गहर रहा और मैंने उसकी ४ बार चुदाई की… तो दोस्तों, इस तरह से मैंने अपनी छुट्टी में अपनी कजिन को मस्त चोदा.. प्लीज आप बताना, कि आप को मेरी ये चुदाई की कहानी कैसी लगी… और अपने अच्छे कमेंट दे कर मेरा हौसला बढ़ाना जरुर…

Desi Story

Related posts:

मेरी मों रंडी के जैसे चुदि
पंजाबन भाभी को pregnant किया
आउटडोर सेक्स की आदत
स्कूल फ्रेंड के साथ सेक्स
बीवी के साथ हनिमून Horny Wife in Red Bra Sex
मामी की गदराई जवानी को लूटा
मेरी और मेरी रंडी बीवी की चुदाई
माँ और अंकल की सेवा
सहेली के लड़के ने चोदा
Rich fuck on terrace
Wife ne husband ki fantasies puri ki – Indian sex story
मस्त चूत को चाचा ने भरता बनाया
मुझे नाइजीरियन लड़की ने हवस का
65 साल बूढी नानी को दिया अपने मोटे
चूची मसल कर चोदा मामी को
मेरी माँ बनी रंडी - Desi Sex KhaniyaDesi Sex Khaniya
बाहर ठण्ड माँ ने ली मेरी लंड
कमीना टीचर की लंड था बड़ा घांसू
खूसट बुड्ढे ने चूत चाट कर चुदाई की
भाबी जान के हॉट फ्रेंड
चुदाई की क्लास ली बहन की
चुदाई की क्लास ली बहन की
बड़ी बहन किरण की चुदाई
My Sexy Aunty | Sex Story Lovers
A Sex Relation Between Tenant And Landlord
Kajal Didi Ke Sath Bitaye Hua Pal
शराबी दोस्त नशे में बेहोश था और उसकी बीवी उसी बिस्तर पर रात भर मुझसे चुदवाती रही
लड़की की चुत, लड़की का सेक्स दीदी के साथ
Diwali Ke Patakhe Meri Gand Mein-दीवाली के पटाखे मेरी गांड में
कुवारी चूत की चुदाई करी ऑफिस मैं और मुठ पिलाया indian sex stories

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *