HomeSex Story

ट्रेन मे चुदाई का मज़ा

ट्रेन मे चुदाई का मज़ा
Like Tweet Pin it Share Share Email
ट्रेन मे चुदाई का मज़ा

यह बात फेब्रुआरी २०१४ की हैं. मैं अपने बर्थ-डे की तैयारी में लगा हुआ था. साला तभी एक एजंसी से कॉल आया की मुझे दिल्ली जाना हैं इंटरव्यू के लिए. मैं बहुत मूडलेस हो गया लेकिन जॉब का सवाल था इसलिए बर्थडे को छोड़ के दुसरे ही दिन मैंने ट्रेन पकड ली. ट्रेन पूरी खाली थी, ७२ लोगो की कैपेसिटी के सामने मुश्किल से १५ लोग थे ट्रेन में. शायद ठण्ड की वजह से लोगों ने केंसल कर दिया होगा. मैं अकेला बोर हो रहा था इसलिए मैं मोबाइल के ऊपर ही सेक्स की कहनी पढने लगा.

कुछ लोग ट्रेन में चढ़े. मैं अपनी सिट पर ही बैठा था. जैसे ही ट्रेन ने कानपुर छोड़ा मैं उठ के बाथरूम में गया. अंदर जाके मैं अपने लंड को हिलाने लगा. चलती ट्रेन में पहली बात मुठ नहीं मार रहा था मैं. लेकिन मुझे पता नहीं था की दरवाजा ख़राब हैं और कड़ी सही नहीं लगी थी. मैं लंड हिला ही रहा था की दरवाजा खुल गया. ३०-३२ साल की एक औरत ने मुझे मुठ मारते हुए देख लिया. वो फट से दरवाजा बंध कर के चली गई. मैंने मुठ मारना बंध नहीं किया. मुझे लगा की वो चली गई और फिर थोड़ी मिलेंगी.

मैं मुठ मार के वापस आया और हाथ धो के अपनी सिट पर जा बैठा. सिट पर बैठते ही मेरी नजर सामने पड़ी, बाप रे वही लेडी यहाँ भी थी. मैं उस से नजरें नहीं मिला पा रहा था. थोड़ी देर बाद उसने मुझे मेरा नाम पूछा और बातें करने लगी. उसने अपना नाम माधवी बताया. देखने में बड़ी मस्त थी यार वो. उसका फिगर तो मैंने नहीं नापा लेकिन उसके बूब्स मस्त बड़े बड़े थे. बात करते करते मैं उसके बूब्स ही देख रहा था. उसने पूछा, क्या देख रहे हो? मैं डर गया और कुछ नहीं बोला. उसने फिर पूछा, बाथरूम में क्या कर रहे थे तुम?

उसने कहा, क्यूँ करते हो यह सब तुम? मैंने कहा, जी मेरा बर्थडे हैं जिसकी मैंने बहुत तयारी की थी लेकिन अब मुझे इंटरव्यू के लिए जाना पड़ रहा हैं. टेंशन थी, जिसे दूर करने के लिए यह कर रहा था मैं. उसने मुझे हाथ मिला के बर्थडे विश किया और मेरे गाल पर धीरे से किस भी कर ली. इसे से तो मैं जैसे की पूरा पगला ही गया.

READ  लंड चूसने की शौक़ीन अवनी

रात के 11 बजने को थे. सभी पेसेंजर चद्दर, कंबल ओढ़ के सोने लगे थे. सिर्फ हम दोनों ही जाग रहे थे ट्रेन के इस डिब्बे में. मुझे तो नींद आने से रही थी. वो भी चोर नजरो से मेरे लंड को देख रही थी. मैंने सोचा की बेटे मौका अच्छा हैं. मैं उठ के उसकी बगल में जाके बैठ गया. मैंने अपना हाथ उसकी जांघ पर रख दिया और उसे सहलाने लगा. मुझे डर था की कहीं वो भडक ना उठे, लेकिन वो चुप रही. शायद उसे भी मजा आ रहा था ऐसा करने से. वो मेरी और बढ़ी और अपने होंठो से मुझे होंठो पर किस देने लगी. उसका हाथ मेरी पेंट पर था और मैं अपना हाथ उसके बूब्स पर ले जा चूका था. मैं उसके उभरे हुए बूब्स दबाने लगा और वो मेरे लंड को प्रेशर देने लगी. उसने अपना हाथ पेंट में डाला और लंड को पकड के हिलाने लगी. हम डर भी रहे थे की कई कोई हमें देख ना लें. मैंने उसे कान में कहा की मैं बाथरूम में जाता हूँ आप भी पीछे आ जाओ दो तिन मिनट में.

मैं बाथरूम में चला गया और मेरे पीछे पांच मिनिट में वो भी आ गई. मैंने दरवाजा सही बंध किया और अपनी बेल्ट से उसे अंदर से बाँध भी दिया. मैं अपने कपडे निकाल के नंगा हो गया. वो मेरे लंड को ही देख रही थी. उसकी साडी और ब्लाउज निकाल के मैंने उसके बूब्स को ब्रा के ऊपर से ही चुसना चालू किया. उसने पीछे हाथ कर के जैसे ही ब्रा खोली मैं पागल हो गया. यार क्या बड़े बड़े बूब्स भरे थे उसने अपनी ब्रा के अंदर. उसने भी सभी कपडे खोल दिए और नंगी हो गई. वो अब टॉयलेट की सिट पर बैठ गई और मेरे लंड को चूसने लगी. बाप रे बहुत ही जबरदस्त मजा आ रहा था मुझे तो. वो लंड को पूरा अंदर ले के ऐसे चूस रही थी की बस लंड खा लेंगी अभी मेरा. मैं उसका माथा पकड के अपने लंड की और खिंच रहा था. फिर मैंने कमर हिला के अपने लंड के झटके उसके मुहं में मारने चालु कर दिए. वो भी लंड को बहार निकाल के हिलाने लगी और फिर उसे मुहं में लेके चूसने लगी. उसने ऐसे ही पांच मिनिट और मेरा लंड चूसा.

READ  Bisexual chut ki maza mili

अब मैंने उसकी टाँगे खोली और एक टाँग को अपने कंधे पर रख दी. फिर मैंने निचे से उसकी चूत को चाटने लगा. वो आह आह करती जा रही थी और मैं जबान को चूत में और भी अंदर तक उतार रहा था. उसके हाथ मेरे बालों में थे जिन्हें वो मसल रही थी और मुझे जोर जोर से चूत की और दबा रही थी. उसकी चूत झड़ गई और मैं उठ खड़ा हुआ. अब मैंने उसका एक पग टॉयलेट सिट पर रखवाया और पीछे से अपना लंड उसकी चूत में डालना चाहा. अभी सुपाडा ही अंदर गया था की उसने आह आह करके लंड को बहार निकाल दिया.

बहुत मोटा हैं ये तो, बहुत दर्द हो रहा हैं मुझे.

आप इसे और चूस लो, फिर दर्द नहीं होंगा.

वो फिर मेरे लंड को मुहं में डाल के चूसने लगी. उसे दो मिनिट और लंड चुसाके फिर मैंने उसे वही उलटी पोजीशन में खड़ा किया. मैंने उसकी चूत पर ढेर सारा थूंक लगाया और फिर अपना सुपाड़ा अंदर डाला. उसकी आह निकल गई. अब की वो लंड को बहार निकाले उसके पहले ही मैंने एक झटका मार के लंड अंदर आधे से ज्यादा पेल दिया.

उसके मुहं से आह निकल पड़ी, अरे बाप रे बहुत दर्द हो रहा हैं, बहुत मोटा हैं तुम्हारा तो…!

अपने लंड की तारीफ़ सुनना किसको अच्छा नहीं लगता. अब मैं उसके बूब्स पकड के उसकी चूत में लंड को पूरा घुसेड़ने लगा. पूरा लंड अंदर डाल के मैं पीछे से उसकी गरदन और कंधे के ऊपर किस करने लगा. वो भी बड़ी मस्त हो गई ऐसा करने से. और मेरे झटके चालू करने से पहले ही वो खुद अपनी गांड को हिलाने लगी. मैंने अब उसकी गांड पर हाथ रख दिया और मैं उसकी चूत में अपने लंड को जोर जोर से अंदर बहार करने लगा. वो अपनी गांड हिला हिला के चुदवाने लगी. मुझे उसकी टाईट चूत के अंदर चोदने में जो मजा आ रहा था वो कैसे बताऊँ आप लोगों को…!

वो गांड हिलाती रही और मैं उसकी चूत में लंड मारता रहा. पुरे पंद्रह मिनिट चुदाई हुई उसकी. वैसे भी एकबार मुठ मार चूका था इसलिए जल्दी निकलना मुश्किल था. वो भी अपनी गांड को जोर जोर से हिला के मेरे लंड का पानी निकालने पे तुली थी और मैं भी अपना लंड उसकी चूत में ठोक ठोक के अपना पानी निकालने पर तुला हुआ था. तभी मेरे लंड ने पिचकारी मारी और मैंने फट से लंड चूत से बहार निकाल लिया. मैंने अपना सब वीर्य उसकी गांड पर ही छिडक दिया. उसके मुहं से संतोष वाली आह निकल पड़ी. हमने कपडे पहने और बारी बारी बाथरूम से बहार आ गए. फिर हम एक ही सिट पर एक कंबल में घुस गए. ठंडी की उस रात में उस लेडी ने मेरा लंड दो बार कंबल में ही चूसा. और एक बार मैंने उसे पीछे से कंबल के अंदर ही चोदा. दिल्ली उतरने पर उसने अपना दिल्ली का पता और मोबाइल नम्बर दिया. उसने कहा की जब भी मैं दिल्ली आऊ उसे कॉल करूँ….!

READ  चाची की चूत में मेरे लंड के मजे Hot Indian Family Sex Stories

Desi Story

Related posts:

दोस्तों ने मेरी माँ का गेंगबेंग किया और चुत फाड़ी
आंटी मेरे फ्लेट पर चुदवाने के लिए आई
लम्बी सैर से चुदाई की दौर तक
पति के गैंगेस्टर दोस्त से चुदवाकर मैं एक आवारा औरत बन गयी
ऑटो में मिली एक मस्त आंटी की चुदाई
नई बॉस की गर्मी मिटाई
प्रोफेसर से चुदाई
मामी को सर्दी की रात में चोदा
आशा भाभी के मन की मुराद
मेरी और मेरी रंडी बीवी की चुदाई
नौकरानी का आशिक
Ghar me Heena bhabhi ki chut faadi
पापा ने नौकरानी को चोदा कहानी
भाबी की बुर का पानी पि कर प्यास मिटाई
रात भर ऑन्टी को इतना चोदा की अभी भी
जवान स्टूडेंट की सिल तोड़ी क्लास में
पड़ोसन सरदारनी की मस्त गांड
मेरी कुंवारी बुर की माँ बहन बनादिया कमीने ने
इस रात की सुबह नहीं
गांव की प्यासी औरत - Desi Sex KhaniyaDesi Sex Khaniya
PHUL SAJYA | Sex Story Lovers
Diwali Par GF Anuradha Ki Pyari Chudai
शराबी दोस्त नशे में बेहोश था और उसकी बीवी उसी बिस्तर पर रात भर मुझसे चुदवाती रही
पहली बार गांड मरवाई शालिनी ने
कोई ऐसी रंडी नहीं जो मेरे लोडे से तृप्त ना हुई हो – हिंदी चुदाई की कहाँनी
सुहागरात में तीन लोगो ने मुझे जम कर चोदा – एक नम्बर की रंडी की तरह हो भाभी Indian Sex Stories
कल रात मेरे पति से भूल हो गई
फ्रेंड की गर्लफ्रेंड को पिज़ा डिलीवर किया
मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरी पूरी गीली चूत को चाट चाटकर सूखा कर दिया और पूरा जूस पी लिया
कोचिंग सेंटर में काजल को चोद डाला

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *