बूढा बिहारी नोकर

हेल्लो दोस्तों मैं नंदिनी और मेरी यह कहानी हैं बिलकुल सच्ची और ताज़ी. मैं नैनीताल के पास एक छोटे से गाँव की हूँ और मैं एक रईस खानदान की इकलोती वारिस हूँ. बचपन से ही मुझे बहुत प्यार में पाला गया इसलिए मैं जिद्दी और घमंडी थी. लेकिन मेरा सारा घमंड उस रात एक बूढ़े बिहारी नौकर ने उतार दिया. उसने मुझे अपने लौड़े का गुलाम बना के ही छोड़ा. इस नोकर ने चुदाई की ऐसी जिसे सोच के आज भी मेरी चूत पानी निकाल देती हैं. तब मैं केवल 18 साल की थी और कोलेज में पढ़ती थी.

इमरान हाशमी ने गरम कर दिया

उस नोकर का नाम तो पता नहीं क्या था लेकिन घर में उसे सब बाबु कह के ही बुलाते थे. बाबु की उम्र कुछ 50 के करीब होंगी. हल्का सा काला रंग, सफ़ेद लटें और तम्बाकू को वो होंठ के पीछे डेड के डर से छिपा के रखता था. बाबु का काम डाइनिंग टेबल सजाना और बाग़ में पानी देना था लेकिन उसके लंड ने मेरी चूत में पानी छोड़ा उस रात को. तो चलें उस रात की बात जब नोकर ने चुदाई की मेरी अक्षत योनी की.

दीपिका की बर्थ-डे मनाने के दुसरे दिन की बात थी. दीपिका ने बर्थ-डे के दुसरे दिन सभी को खाने की पार्टी दी. सब लोग खाने के बाद 6 से 9 के शो में  मूवी देखने के लिए गए. तब मर्डर मूवी लगी थी और हम लोग वही मूवी देखने गएँ. इमरान हाश्मी की किस ने मल्लिका की चूत की क्या हालत की वो तो पता नहीं लेकिन हम तीनो क्लोज़ फ्रेंड दीपिका, टीना और मेरी चूत की तो हालत ख़राब हो गई. अभी हम तीनो वर्जिन थी लंड लेने के मामले में, हाँ हाम मिल के चूत से छेड़खानी जरुर करती थी. मूवी होल में ही दीपिका ने मेरे कान में फुसफुस किया, “साला किस ऐसी करता हैं तो लंड कैसे डालता होंगा ये…!”

READ  Widow bhabhi Avni ne mera lund chusa – Hindi sex kahani

मैंने उसे एक चिमटी लेते हुए कहा, “चुप कर पागल कोई सुनेंगा.”

लेकिन उसकी बात में दम तो था. इमरान हाशमी ने सभी की भुत को गिला कर दिया था और ऊपर से वो मल्लिका शेरावत की आहें, माय गोड क्या मूवी थी. 9 बजे के बाद जब घर पहुंची तो बाबु और उन्नति (हमारी कामवाली) डाइनिंग रूम में थे. मैंने उन्हें मोम डेड के बारे में पूछा तो बताया की चोप्रा साहब के वहां जश्न में गए हैं. बाबु को मैंने खाना आधे घंटे के बाद मेरे रूम में ही लगाने को कहा. उन्नति ने मुझे कहा की उसका बेटा बीमार हैं इसलिए वो एक घंटे में वापिस आएँगी. मैं ऊपर अपने कमरे में चली गई और चूत की गर्मी को मिटाने के रस्ते तलाशने लगी. दड्रावर से एक पोर्न मैगज़ीन जिसे मैंने किताबों के बिच में छिपाया था उसे निकाला. बड़े बड़े लंड से चुदती हुई वो गोरियों को देख के भला किसे जलन नहीं होती हैं. मैंने अपनी स्कर्ट को ऊपर किया और अपने पलंग में लेट के चूत को सहलाने लगी. चूत के अंदर आज अलग ही कम्पन थे; थेंक्स टू इमरान हाश्मी. मैं अब चूत के अंदर ऊँगली डाल के अंदर बहार करने लगी. मेरा मन बड़ा ही मचल उठा था. चूत के अंदर ऊँगली देने से अलग ही मजा आ रहा था. मैंने आँखे बंध की और ऊँगली को लंड बना दिया अपने ख्यालों में ही. मुहं से सिसकियाँ भी निकल रही थी वो तो मुझे पता ही नहीं चला….!

कोई क्या कहेंगा नोकर ने चुदाई की इसकी

मेरी आँख तब खुली जब ट्रे के ऊपर रखे हुए प्लेट के कांपने का थर थर आवाज आया. आँखे खुली तो मुझे बड़ा झटका लगा. बाबु रूम में आ गया था और उसके हाथ में खाली ट्रे और धोई हुई प्लेट्स थी. मेरी क्या कैफियत रही होंगी जब मेरे सामने मेरा नोकर था और मैंने स्कर्ट को साइड में कर के चूत में ऊँगली डाली होंगी. मैंने फट से ऊँगली निकाल के स्कर्ट सही किया. पोर्न मैगज़ीन को छिपाने के लिए मैं उसके ऊपर ही बैठ गयी. बाबु अभी भी मूझे आँखे फाड़ फाड़ के देख रहा था. मैंने उसे डांटना चाहा, “बाबु, पागल हो क्या तुम, डोर क्नोच्क्क क्यूँ नहीं किया और मैंने एक घंटे में खाना लगाने को कहा था.”

READ  Ghar me Heena bhabhi ki chut faadi

बाबु बोला: बेबी जी मुझे लगा की आप शायद बाथरूम में फ्रेश हो रही हैं, सोचा की प्लेट्स लगा दूँ खाना बाद में लगाऊंगा. लेकिन मुझे क्या पता की आप यह सब भी करती हैं, साहब को पता चला तो.

बाबु ने इशारे में ही मुझे यह कह दिया था की वो साहब यानी की मेरे डेड को यह बता सकता हैं. उनकी नजर में आज एक अलग ही भाव था. वो जैसे की कुत्ते की माफिक मुझे देख रहा था. मैंने बाबु की और देखा लेकिन वो मेरे से नजरें बिलकुल नहीं हटा रहा था. और फिर वो जो बोला उस से मेरे होश ही उड़ गएँ, “बीबी जी कहों तो मैं मदद कर दूँ.”

व्हाट ध फ़क….नोकर ने चुदाई की मेरी क्या मैं ऐसा कहूँगी लोगों से. बाबु को ऊपर से निचे देखा और मैं कहने ही वाली थी की जा भाग साले रूम के बहार तू मेरा नोकर हैं. लेकिन बाबु आगे बोला, “वैसे भी साहब को पता चला तो अनर्थ हो जायेंगा. किसी को कहना मत लेकिन मेमसाब को भी हम कभी कभी ऐसी हालत में मदद किया हूँ.”

बाप रे यह तो बड़ी हस्ती लग रही थी जो मुझे कह रहा था की मेरी माँ की चनोकर ने चुदाई की हुई थी. लेकिन यह कहते हुए उसके मुहं पे बिलकुल सहज भाव थे, मतलब की कोई बनावट नहीं थी. मैंने बाबु को देखा और उसने ट्रे को निचे रख दिया और मुझे कोई मोका मिले उसके पहले ही अपनी पतलून की ज़िप खोल दी. उसने अपना लंड निकाला जिसे देख के मैं चकरा सी गई. उसका लंड किसी पोर्न स्टार के जैसा था चौड़ा सुपाड़ा और लंड की लम्बाई कम से कम 8 इंच थी और अभी बढ़ सकती थी क्यूंकि लंड अभी आधा टाईट था. मैंने एक पल के लिए सोचा की नोकर ने चुदाई की ऐसा किसी को कहना थोड़ी हैं, बस उसे चोद के मजे लेने हैं अपनी चूत के अंदर इस बड़े से लौड़े के…!

Aug 30, 2016Desi Story
READ  प्रीति भाभी की चूत का अनमोल रस

 

Content retrieved from: .

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *