बेस्ट फ्रेंड की चुदाई

हाई, आई एम् आकाश. मैंने गुजरात से हु और मैं हर रोज यहाँ पर एक चुदाई स्टोरी पढता हु. बहुत सी चुदाई की स्टोरी पढ़ी है. तो मैंने भी सोचा, क्यों ना.. मैं भी अपनी एक स्टोरी लिखू यहाँ पर. ये मेरे जीवन की सच्ची कहानी है, जब मैंने अपनी बेस्ट फ्रेंड को चोदा, उसको एक्साइट करके. सो फर्स्ट मैं अपने बारे में बता दू, कि मैं एक मिडिल क्लास फॅमिली से हु और अपने पापा के साथ पार्टनरशिप में बिज़नस करता हु. मेरी बॉडी नार्मल है और मेरे लंड का साइज़ ७ इंच लम्बाई में और ३ इंच मोटा है. सो नाउ अब मैं अपनी स्टोरी पर आता हु. ये स्टोरी तब कि है, जब मैं कॉलेज में था और हमारे कॉलेज में एनुअल फंक्शन था. तब मैं और मेरी दोस्त, जिसका नाम रेखा (नाम चेंज).. उसके साथ डीसाइड किया था, कि हम फंक्शन में एक कपल डांस करते है. उसके बाद हमने अपनी डांस की प्रक्टिस शुरू कर दी. हम लोग रोजाना कॉलेज के बाद क्लासरूम में रुक जाते थे प्रकटिस के लिए. हम काफी देर तक प्रक्टिस करते. अरे हां, मैंने रेखा के बारे में तो कुछ बताया ही नहीं.. सुनो.. वो एक बहुत ही मस्त लड़की है.

 

उसका फिगर भी एकदम टाइट है और फिट है. उसका साइज़ २६ – ३० – २६ का है और बहुत से कॉलेज के लड़के उसके साथ रिलेशनशिप बनाने के लिए तरस रहे थे. मुझे भी वो बहुत अच्छी लगती थी. पर वो मुझे सिर्फ अपना एक दोस्त ही मानती थी. सो मैं कुछ भी नहीं कर प् रहा था. सो नाउ कम अगेन तो स्टोरी…  तो उसके बाद हम लोगो की रोज की प्रक्टिस शुरू हो गयी और मैं जान बुझ कर उसको इसे स्टेप्स सिखा रहा था, कि वो मेरे करीब रहे. वैसे भी ये एक कपल डांस था, तो स्टेप थे भी वैसे ही. उन स्टेप्स की वजह से मुझे उसको छुने का भरपूर मौका मिल रहा था. एक दिन हम प्रक्टिस कर रहे थे. तब एक स्टेप एसा था, जो बहुत ही सेक्सी था. मैंने उसको बोला और वो मान गयी. जब हम प्रक्टिस कर रहे थे, तब उस स्टेप में, मैंने उसको पकड़ा, तो मेरा हाथ उनके बूब्स पर चले गया. पहले तो मुझे भी शरम आई, लेकिन जब उसने सिर्फ एक स्माइल देकर उसको इग्नोर कर दिया, तो मैं एक्साइट हो गया और सोचा, कि डांस से पहले इसको चोदना है एक बार जरुर. तो उसके बाद रोज प्रक्टिस के लिए मिलते थे और रोजाना करते थे.

READ  Birthday par mom ki chudai ki

पर एक दिन, जब हम प्रक्टिस कर रहे थे, तब वो स्टेप आ गया और तब मेरा हाथ फिर से उसके बूब्स पर चला गया. तो उसने कुछ नहीं बोला और शर्मा दिया और फिर वो भी थोड़ा कहरा कर साथ देने लगी. फिर प्रक्टिस के बाद, हम घर को वापस जाने लगे. तो बस में वो मेरी साइड में बैठ गयी थी. तब मैंने उस से पूछा, कि कुछ बुरा तो नहीं लगा. वो बोली – कोई बात नहीं. होता है ऐसा. इट्स ओके. तो मुझे लगा, कि ग्रीन सिग्नल मिल गया है मुझे. फिर अगले दिन हम प्रक्टिस करके घर जा रहे थे, तब वो साइड बैठी थी. तब मैंने जान बुझ कर उसकी जांघ पर अपना हाथ रख दिया, तो वो कुछ भी नहीं बोली. फिर मैं धीरे – धीरे हाथ फेरने लगा. तो मुझे लगा, कि वो एक्साइट हो रही थी और उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोला – यहाँ नहीं, कहीं और. तो मैं फुल एक्साइट हो गया और हम रास्ते में उतर गये. रास्ते में मेरे दोस्त का घर था और दिन में उसके घर में कोई नहीं होता था, तो मैंने उसके घर की की ले रखी थी. हम दोनों वहां पर चले गये और जैसे ही हम घर में घुसे, मैंने उसको अपनी बाहों में पकड़ लिया और एक किस कर दी उसके लिप्स पर. तो वो एकदम से शरमा गयी और फिर मैंने उसको फिर से किस दी और अब वो मेरा साथ देने लगी थी.

वो मुझे जोर से किस कर रही थी. मेरे बालो में हाथ फेर रही थी. उसके बाद मैंने उसको उसके गले पर किस किया, तो वो बोली – आआअ आकाश… अच्छा लग रहा है… करो ना ऐसे ही… करते रहो…. बाद में, मैंने उसको शर्ट उतार दी और वो थोड़ा शरमाने लगी. पर मैंने उसको इग्नोर कर दिया और उसके बाद उसकी ब्रा को भी खोल दिया. वो मुझ से लिपट गयी और मुझे किस करने लगी. मैंने देखा, कि उसके बूब्स गोल – गोल और बहुत बड़े थे. मैंने उसपर हाथ फेरना चालू कर दिया, तो वो आहे भरने लगी. जब मैंने उसको बेड पर लिटाया और बूब्स पर, पेट पर किस करने लगा; तो वो सिस्कारिया भरने लगी. मैं समझ गया, कि वो भी एक्साइट हो चुकी थी. मैंने उसकी पेंट को खोल कर उतार दिया और अब वो मेरे सामने सिर्फ पेंटी में थी. मैंने पेंटी के ऊपर से ही उसकी चूत पर हाथ फेरया, तो वो एकदम गीली हो चुकी थी. उसके बाद, मैंने वो पेंटी भी निकाल दी और पूरा नंगा कर दिया उसको.

READ  वेबसाइट पर मिली दिल्ली की लड़की को पटाकर चोदा

उसके बाद मैंने अपने कपड़े भी उतार दिए और मेरा लंड दिखाया और पकड़ा दिया उसको. वो एकदम से चौक गयी और बोली – इतना बड़ा? मेरे अन्दर डालोगे? तो मैंने बोला – हाँ. पहले थोड़ा दर्द होगा, कि बाद में तुम्हे भी मज़ा आने लगेगा. वो बोली – ठीक है. पर धीरे से करना. तो मैंने कहा – पहले मेरे लंड को मुह में तो लो. पहले तो वो नहीं मानी और मना कर दिया. लेकिन मेरे थोड़ा फ़ोर्स करने पर वो मान गयी और मेरे लंड को मुह में ले लिया आहाहाह अहहाह … क्या मस्त मजा आ रहा था. जा वो पी रही थी, तब मैंने उसके बूब्स पर हाथ फेरना चालू कर दिया.. उसके बाद, मैंने उसको बेड पर लिटा दिया और उसकी चूत पर हाथ फेरने लगा. वो बहुत एक्साइट हो गयी और बोली – आकाश अब मत तड़पाओ.. डाल भी दो.. तो मैंने उसकी चूत पर लंड रख दिया और धीरे – धीरे अन्दर डालने लगा और फिर एक बार में जोरदार झटका लगाया. मेरा पूरा लंड उसकी चूत में अन्दर घुस गया था. वो जोर से चीख पड़ी… और बोली – आकाश, प्लीज ऐसे मत करो… बाहर निकालो. बहुत दर्द हो रहा है मुझे. मैंने उसके लिप्स पर किस किया और उसको झटके मारने लगा. उनकी आँखों से आंसू आ गए. पर मैंने उसको किस करना नहीं छोड़ा और उसको झटके मारता रहा.

पहले वो दर्द से बेहाल हो गयी. पर बाद में, वो भी मेरा साथ देने लगी और बोलने लगी – आकाश जोर से करो.. मज़ा आ रहा है. प्लीज और जोर से करो ना.. मैंने मैंने अपने झटको की स्पीड को बड़ा दिया. करीब २० मिनट तक ऐसे ही, चुदाई की मैंने उसकी. उसके बड, मैंने उसको मेरे उपर आने को बोला. तो वो आ गयी मेरे ऊपर और जोर से कूदने लगी मेरे ऊपर और मजे लेने लगी. वो बोल रही थी अआहह्हा अहहाह अहहाह आकाश बहुत मज़ा आ रहा है… डार्लिंग आई लव यू…. ममाममामा अमममम मज़ा आ रहा है… फिर उसने मुझे जोरदार किस दी अपने १५ मिनट तक ऐसे ही कूद कर अपनी चुदाई करती रही. फिर वो एकदम से झड गयी और मेरे ऊपर सो गयी. फिर करीब आधे घंटे बाद, हम बेड से उठे और उसने मुझे एक लिप किस दिया और बोला – बहुत मज़ा आया आकाश… अब जब भी तुम्हारा मन करे, तब बोलना.. मुझे, हम करेंगे..

READ  बुआ की बेटी की सीलतोड़ चुदाई

सो फ्रेंड, ये थी मेरी पहली स्टोरी.. जोकि मैंने अपनी दोस्त की चुदाई के बारे में बताई है आपको… आपको ये कैसे लगी.. अपने कमेंट जरुर दे, प्लीज..

Aug 22, 2016Desi Story

Content retrieved from: .

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *