मेरी ज़िंदगी की पहली चुदाई

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम लकी है, और में रायपुर छतीसगढ़ का रहने वाला हूँ और में अभी 27 साल का हूँ, ये स्टोरी 6 साल पहले शुरू होती है जब में 21 साल का का था. मेरे घर के पास एक सेक्सी लड़की रहती थी, उसका नाम ऋतु था, उसका कलर गोरा था और उसके बूब्स भी एकदम मस्त थे. अब मैंने उसको पटाकर चोदने का प्लान बनाया. अब होली पास में थी तो मैंने उससे बात की और कहा कि ऋतु मुझे तुझसे बहुत दिन से कुछ कहना था, तो वो बोली कि बोलो, लेकिन में बिना बोले वहाँ से चला गया.

फिर अगले दिन वो मेरे घर आई और मुझसे बोली कि शाम को छत पर मिलो मुझे कुछ बात करनी है. तो में बोला कि ठीक है और हमने 5 बजे मिलने का प्लान बनाया, क्योंकि वो मेरी पड़ोसी थी और वो मेरे घर आती जाती रहती थी. फिर शाम हुई तो में छत पर गया और वो पहले से ही वही थी.

फिर में बोला कि बोलो तो वो बोली तुम कल कुछ बोल रहे थे और बिना कुछ बोले चले गये. अब में चुप थाऔर फिर उसने पूछा कि बोलो क्या बोलना है? तो में कुछ नहीं बोला और वो बोली में भी तुम्हें एक बात बोलना चाहती हूँ आई लव यू. अब मेंये सुनकर पागल हो गया और रिटर्न में मैंने भी उसको बोल दिया आई लव यू. फिर अब में उसकी छत पर गया (मेरी और उसकी छत एकदम पास-पास है और एकदम जुड़ी हुई है) और उसको हग कर लिया, मैंने पहली बार किसी को हग किया था.

अब मैंने उसके बूब्स को महसूस किया, में बता नहीं सकता मुझे तब कैसा लग रहा था? फिर उसकी मम्मी ने आवाज़ दी तो वो नीचे चली गई, लेकिन फिर मैंने उसका हाथ पकड़कर उसको फिर से हग किया और गाल पर किस कर दिया तो वो बोली कि छोड़ो अभी, कल कर लेना जितना प्यार करना है, अभी जाने दो. फिर मैंने कहा कि कल कब? तो वो बोली कि इस टाईम ही. फिर हम दोनों छत से नीचे उतर गये और फिर रात को में उसके नाम की मुठ मारकर सो गया. फिर जब में सुबह उठा तो अब में सिर्फ शाम होने का इंतजार कर रहा था.

READ  आज मैं संतुष्ट हुई पति के दोस्त

फिर जैसे ही 4 बजे तो में छत पर पहुँच गया. अब मैंने उसके लिए एक डेरी मिल्क और गुलाब और एक कंडोम का पैकेट चॉकलेट फ्लेवर का लिया. फिर जैसे ही 5 बजे वो आई तो मैंने उसे गुलाब दिया, फिर चॉकलेट दी, तो उसने खुश हो कर मुझे हग किया और किस किया. फिर मैंने उससे बोला कि मुझे तुझे लिप किस करना है तो उसने अपनी आँखे बंद की और में समझ गया कि वो तैयार है. फिर मैंने उसे धीरे-धीरे किस किया और अब हम दोनों एक दूसरे के लिप्स को चूसने लगे.

अब हम पागलों की तरह लिप चूसे जा रहे थे और अब हमारी किस भी एकदम तेज़ हो गई थी. फिर हम एक दूसरे की जीभ चूसने लगे. फिर मैंने उसके टॉप के अंदर हाथ डाला तो उसने ब्रा नहीं पहनी थी, अब मैंने उसके बूब्स को टच किया और उसे किस किए जा रहा था. अब मैंने उसके चेहरे को देखा तो अब वो इन सबका पूरा मज़ा लिए जा रही थी.

फिर में उसका टॉप ऊपर करके उसके बूब्स चूसने लगा, कभी निपल को दांत से काट लेता तो फिर जीभ से चाट लेता. फिर मैंने अपना 7 इंच का लंड जो कि अपने राउंड के लिए पूरी तरह से तैयार हो गया था. फिर मैंने उसे थोड़ा और गर्म करके उसकी जीन्स को उतारना शुरू किया और उसने थोड़ा मना किया, लेकिन अब जब में स्मूच के साथ उसके बूब्स दबा रहा था, तो फिर उससे भी रहा नहीं गया और उसने मेरा लंड पकड़कर हिलाना शुरू कर दिया.

READ  Kamuk client ne lund liya

अब में समझ गया कि ये तैयार है तो मैंने जल्दी से एक साथ उसकी जीन्स और पेंटी उतार दी, उसकी चूत एकदम साफ क्लीन शेव थी. अब मैंने उसकी चूत में उंगली करना शुरू किया और अब में एक हाथ से उसके बूब्स दबा रहा था और किस कर रहा था. फिर मैंने उसको बोला कि मेरे लंड को चूसो तो वो बोली इतना बड़ा मेरे मुँह में कैसे जायेगा? तो में बोला कि ट्राई तो करो.

फिर वो नीचे अपने घुटनों के बल बैठी और जब अपनी जीभ से मेरे टोपे को चाटा तो मज़ा आ गया. फिर उसने धीरे-धीरे चूसना शुरू किया. अब 5 मिनट तक चूसने के बाद मैंने उसके मुँह को ही चोदना शुरू कर दिया. फिर थोड़ी देर तक उसके मुँह को चोदने के बाद मैंने उसको नीचे लेटा दिया और किस करना शुरू किया. अब में उसको थोड़ा और गर्म करने लगा, अब में उसके बूब्स सक कर रहा था और उसकी चूत में उंगली डालकर अंदर बाहर कर रहा था. फिर वो बोली कि बस बहुत हुआ लकी, अब मत तड़पाओ, डाल दो इसे प्लीज, अब सहन नहीं हो रहा है.

फिर मैंने तुरंत अपने लंड पर कंडोम लगाया और उसकी चूत पर रखा और एक हल्का सा झटका दिया. फिर वो बहुत ज़ोर से चिल्लाई कि क्या कर रहे हो? निकालो ये, मुझे दर्द दे रहा है, निकालो इसे, लेकिन मैंने उसे अपने हाथ से दबा कर रखा था और मेरी पूरी बॉडी का वजन भी उस पर ही था.

फिर वो कुछ कर नहीं पा रही थी. फिर मैंने उसे किस करना स्टार्ट किया और फिर मैंने उसे थोड़ी देर तक किस किया और थोड़ा और अंदर पेल दिया. अब उसकी आँखो से आंसू आ गये थे और वो छोड़ दो मुझे, बहुत दर्द हो रहा है, निकालो, प्लीज प्लीज बोलने लगी, लेकिन अब में कहाँ उसकी मानने वाला था, फिर में थोड़ा रूका और उसको फिर से स्मूच करने लगा तो मैंने देखा कि वो कुछ नॉर्मल हो गयी है और फिर मैंने एक झटका और दिया तो मेरा लंड पूरा उसकी चूत के अंदर चला गया. अब वो चिल्ला भी नहीं सकी, फिर मैंने 2 मिनट तक अपने लंड को उसकी चूत के अंदर ही रखा.

READ  बीवी के साथ हनिमून

फिर मैंने उसे थोड़ा नॉर्मल होने दिया, थोड़ा किस किया, बूब्स दबाया, फिर अपने लंड को बाहर निकाला तो अब मेरे पूरे लंड पर खून लगा हुआ था, तब मुझे समझ आया कि वो वर्जिन थी इसलिए उसे दर्द हो रहा था. फिर क्या था? मैंने फ्रेश कंडोम लगाया और उसे ज़ोर-ज़ोर से चोदने लगा, इस बार वो भी चिल्लाने की जगह, आहह हम्मम्मम ऑश आअहह ह्म्‍म्माअहह ज़ोर से आहहाआहह हाहाहा कर रही थी, और अपने नाख़ून मेरे ऊपर चुभा रही थी.

अब में झड़ने वाला था तो मैंने ज़ोर-ज़ोर से शॉट लगाया और झड़ गया. फिर हम एक दूसरे के ऊपर 10 मिनट तक ऐसे ही पड़े रहे. फिर हम उठे और मैंने उसे क़िस किया. फिर वो जाने लगी तो अब उससे चला भी नहीं जा रहा था, फिर हम जब जब मिलते है तो चुदाई का प्रोग्राम करते है.

Aug 8, 2016Desi Story

Content retrieved from: .

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *