मौसी की लड़की की सिल तोड़ चुदाई

हाई फ्रेंडस मेरा नाम विजय हैं और मेरी उम्र १९ साल हैं, आज मैंने अपनी पहली कहानी आप को लिख के भेजी हैं जो एकदम सच हैं. मेरी मोसी की २ बेटियाँ हैं और वो लोग एमपी में रहते हैं. मौसी की दोनों बेटियाँ देखने में एकदम सुन्दर और हॉट हैं जिन्हें देखकर कोई भी अपना लंड उनकी चूत में डालना चाहेगा. बड़ी वाली लड़की २२ साल की हैं जिसका नाम पूजा हैं और छोटी वाली लगभग १९ साल की हैं जिसका नाम पायल हैं.

गर्मी की छुट्टियों में मौसी  हमारे घर घुमने आई थी साथ में दोनों उसकी बेटियाँ भी थी. मैं पायल पे फिर रहता था यु तो वो मेरी बहन थी मैं उसे हमेशा अपनी गर्लफ्रेंड की नजर से देखता था.

पायल को नंगा नहाते देख लंड खड़ा हुआ

एक दिन की बात हैं पायल ऊपरवाले बाथरूम में नाहा रही थी की अचानक मैं आके दरवाजे को धक्का मारा जिस से दरवाजा खुल गया और मैंने देखा की पायल बाथरूम में नंगे ही नाहा रही थी.उसने मुझे देखा तो दरवाजा खिंच लिया लेकिन मेरी ये दो पागल आँखे उसे देखती रह गयो. उसके बूब्स मीडियम थे और उसकी चूत एकदम साफ़ और चिकनी थी. मैं फटाफट मुठ मारने लगा और उसे चोदने का प्लान भी सोचने लगा.

अब शायद वो भी मुझे लाइक करने लगी थी. मैं शाम को चूत पे घूम रहा था की पायल भी वहाँ आ पहुंची. मुझे सुबह की हरकत याद आ गई तो मैंने उसे पीछे से जा पकड़ा और उसके कंधो को पकड कर उसे किस करने लगा. वो मुझे धक्का लगा के बोली, कोई आ जाएगा अभी नहीं!

मुझे तो यकीन नहीं हुआ की वो ऐसा बोली. फिर क्या था मैं उसे सीडियों पे ले गया और हम सीडियों में चले गए वहां हमने खूब किसिंग किया और फिर मैंने अपने हाथो से उसके बूब्स पकड़ लिए और दबाने लगा. वो सिसकियाँ ले रही थी और जैसे ही मैंने अपना हाथ उसकी चूत पर रखा तो वो शर्मा के भाग गई. फिर मैने मुठ मारी और वहाँ से चलता बना. लेकिन उसकी चूत की याद बार बार आ रही थी. रात को सब खाना पीना खाने के बाद सोने छत पे चले गए लेकिन मैंने निचे सोने का प्लान बनाया क्यूंकि पायल निचे मम्मी के साथ सो रही थी.

READ  भाई का चूत प्यार - Desi Sex KhaniyaDesi Sex Khaniya

सो मैं भी निचे सोने चला गया, बेड बड़ा था तो मम्मी बिच में सो गयी और एक तरफ मैं और एक तरफ पायल सोयी थी. मम्मी के पैरो में हमेशा दर्द रहता था तो उस दिन मम्मी ने मुझे अपने पैरो पे लेटने को कहा तो मैं उनके पैरो पर लेट गया और एक हाथ से पायल के बूब्स दबाने लगा. करीब आधा घंटा होने के बाद मैंने अब पायल की चूत पर हाथ रख दिया. उसने फ्रॉक पहना हुआ था, मैंने अपना हाथ फ्रॉक में डाल दिया और उसकी चूत में ऊँगली करने लगा.

मम्मी भी अब सो चुकी थी तो मैंने मौका देख के चौका मार दिया. मैंने पायल की फ्रॉक ऊपर कर के उसकी चूत चाटने लगा. उसकी चूत की खुशबू में मैं मदहोश होने लगा था, उसकी चूत से निकलता हुआ सारा पानी मेरे मुहं में जा रहा था उस नमकीन पानी का भोग मैंने पहले कभी नहीं लिया था. पायल सिर्फ सिसकियाँ ले रही थी मम्मी के खर्राटों ने उसकी सिसकियों का पता नहीं चल रहा था. मैं तो किया की आज मैं इसे चोद ही दूँ लेकिन मम्मी के बगल में होने के कारण मैं असफल था. उस रात को हम दोनों रात भर मजे करते रहे, कभी वो मेरा लंड चूसती तो कभी मैं उसकी चूत चाटती.

अकेलेपन का फायदा ले के चोदा

अगले दिन मुझे किसी काम से लखनऊ जाना पड़ गया तो मैं चला गया. लेकिन मुझे उसे चोदने का बहुत मन करता था. दो दिन बाद मैं वापस आया तो देखा की पायल वही चेयर प् बैठी थी. मैं जा के उसे गले लगा लिया और गर्दन पर किस करने लगा. फिर उसने मुझे बताया की मम्मी और मौसी बहार गए हुए हैं और भाई कोलेज गया हुआ हैं. उस वक्त घर में सिर्फ मैं और वही थे. मैं ख़ुशी से पागल हो रहा था. और उसे मैंने हाथो से ऊपर उठा लिया और अन्दर ले गया और फिर मैंने उसे हर जगह पर किस किया तो वो बोली, चलो पहले नाहा लेते हैं. मैंने उसे कहा की तुम नाहा लिए तो वो बोली मैंने तो सुबह में ही नाहा लिया था.

फिर मैंने अपना टॉवल लिया और बाथरूम में चला गया. नहाते वक्त मैंने पयाल को आवाज लगाया की ज़रा इधर आना तो वो आ गयी और मैंने उसे भी अंदर खिंच लिया. वो बोली ये क्या कर रहे हो. उसके और कुछ बोलने से पहले मैंने शोवर चालु कर दिया. अब वो भी एकदम भीग गो थी तो मैंने बोला अब तो तुम भी भीग गई हो तो क्यूँ न एकबार और नाहा लो. वो मान गई फिर मैंने उसके कपडे एक एक कर के उतार दिए और अब वो एकदम नंगी, जैसा मैंने पहले दिन उसे देखा था. उसने भी मेरे सारे कपडे उतार दिए. अब हम दोनों एकदम नंगे थे, मैं एक बार फिर से उसकी चूत को चाटने लगा था और वो जोर जोर से सिसकियाँ ले रही थी. फिर मैंने उसके बूब्स मसलने लगा. वो और भी गरम होती जा रही थी उसने मेरे लंड को अपने मुहं में भर लिया और मुहं को हिला के चूसने लगी.

READ  बड़ा लंड क्या प्यासा मेरी चूत

करीब ८-१० शॉट में मैं उसके मुह में ही झड़ गया. वो मेरा सारा रस पी गई और मेरे गोटियों के साथ खेलने लगी. एक बार फिर से मेरा लंड खड़ा हो गया तो मैं उसकी चूत में डालने लगा तो वो मना कर दी और बोली बहार के लिए भी कुछ छोड़ दो, सब यही थोड़ी करेंगे! तो मैं फटाक से उठा और उसे अपनी गोदीमे उठा के कमरे में ले आया और उसे बिस्तर में गिरा दिया और मैं अब उसके ऊपर आया गया. मुझे याद आया इसलिए उठ के मैंने तेल की बोतल ले आया और उसकी चूत पर लगाने लगा और वो मेरे लंड पर तेल लगाने लगी. मैंने उसकी टांगो को अपने कंधे के ऊपर रख दिया और अपना लंड उसकी कुंवारी चूत पर निशाना लगाया और जैसे ही मैंने अपना लंड उसकी चूत में घुसाया की वो चिल्ला पड़ी.

मैंने उसे शांत कराया और बताया की पहली बार दर्द होता हैं और फिर मैं उसकी चूत में घुसाने लगा लेकिन उसका दर्द बढ़ते ही जा रहा था तो मैंने एक झटके में आधा लौड़ा उसकी चूत में पेल दिया वो चिल्लाने लगी और इधर उधर छटपटाने लगी. उसकी आँखे एकदम लाल हो गई थी आंसूओ की कतार बहार आ रही थी. तभी मैंने देखा की मेरे लंड पर खून लगा था तो मैंने उससे एक तोवेल से पोंछ दिया ताकि पायल ये ना देख पायें नहीं तो वो डर जाती. पायल मुझे धकेल रही थी ताकि मेरा लंड उसकी चूत से बहार निकल जाए लेकिन वो नाकाम रही.

READ  Sexy Boobe Wali Cousin

मैंने उसे समझाया की बस अब दर्द नहीं होगा लेकिन वो मानने को तैयार ही नहीं थी. मैं उसकी चुंचियां मसलने लगा ताकि वो दोबारा गरम हो जाए. करीब १५ मिनिट बाद उसका दर्द शांत हुआ तब तक मैंने उसे गरम कर दिया था तो अब मैंने पूरा लंड धीरे धीरे अन्दर बहार करना चालू कर दिया. और २-३ मिनिट बाद मैंने अपनी रफ़्तार तेज कर दी. अब पायल भी मेरा पूरा साथ दे रही थी लगभग ३०-४० शॉट्स के बाद पायल ने मुझे अजगर की तरह जकड़ लिया. मैं समझ गया की उसका खेल ख़तम हो चुका हैं.

अब मैं भी कगार पर पहुँच गया था और १०-१२ शॉट्स लगाने के बाद मैं उसकी चूत में ही झड़ गया. हम दोनों एक दुसरे से चिपके हुए थे और लम्बी लम्बी साँसे ले रहे थे फिर मैंने अपना लौड़ा पायल की चूत से लगा कर दिया. लेकिन थोडा बहुत खून उसपे अब भी लगा हुआ था तो पायल ने पूछ लिया की ये खून कहा से आया तो मैंने उसे समझाया की पहली बार जब भी कोई लड़की ऐसी चुदती हैं तो उसकी सिल टूट जाती हैं जिस से खून निकलता हैं. फिर हम दोनों एक बार और नहाये और मैंने अपना सारा कपडा फिर से धोया जिसपर खून लगा हुआ था. और हम दोनों साथ में खाने चले गए.

शाम को अम्मी भी आ गयी तो उन्होंने पायल से एक ग्लास पानी मंगवाया, पायल कुछ लंगड़ा चल रही थी तो मौसी ने पूछ लिया की पैर में क्या हुआ हैं तो हमलोगों ने बहाना बना दिया की सीडियों से उतारते वक्त मोच आ गयी थी. उसके बाद डॉन दिन तक मैंने पायल से चुदाई नहीं की सिर्फ किसिंग से काम चलाते रहे. दो दिन बाद मौसी की ट्रेन थी, वो मुझसे अलग नहीं होना चाहती थी! और जाते समय उसने वादा किया की आगे भी जबी मौका मिला वो मेरा लंड जरुर लेगी.

Aug 26, 2016Desi Story

Content retrieved from: .

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *