HomeSex Story

सयानी इंटर्न को चोदने की तकनीक

Like Tweet Pin it Share Share Email

ईनू मेरे साथ नई नई एज़ एन इंटर्न लगी थी और आते ही वो  सबकी  चहेती बन गयी थी, उसके हंसमुख स्वभाव  और सुन्दरता के कारण लड़के और लड़कियां सभी उसके जल्दी ही दोस्त बन गए थे. पर एक चीज़ मैंने ख़ास नोटिस की थी और वो यह की वो आज किसी के साथ घूम रही थी तो कल किसी के साथ, महिना डेढ़ महिना ईनू सैंडी के साथ बड़ा घूमती फिरती थी और दो महीने पूरे होते होते जब ईनू विकास के साथ घूमती फिरती नज़र आई और सैंडी अकेला और दुखी तब मैं समझ गया क्या लोचा हुआ है. आजकल मैं ऑब्जर्व कर रहा था की ईनू मेरे केबिन में ज़रा ज्यादा ही आती है, उसने मुझे फेस बुक पर भी ज्वाइन कर लिया था और आये दिन मेरे पिक्स और स्टेटस लाइक और कमेंट करती रहती थी. मुझे लग ही गया था की ये जल्दी ही म्मुझे भी घुमाने के मूड में है और यही हुआ एक दिन उसने अपनी गाड़ी खराब होने का बहाना कर के मेरी गाड़ी में लिफ्ट ले ली.

 

ईनू मेरी पर्सनल लाइफ में ज्यादा घुस रही थी और मैं उसे दूर रखना चाहता था तो मैंने उसे किसी और बात में उलझा दिया, उसे  उसके फ्लैट पर ड्राप कर के मैं अपने घर चला आया और सैंडी और विकास को मेसेज कर के घर पर दारू पीने बुलवा लिया जहाँ मैंने उन्हें दारु पिला कर ईनू के बारे में पर्सनल जानकारियाँ उगलवा ली. उस रात मैंने चैट पर ईनू को पिंग किया और बहुत देर तक उस से बकचोदी की, सैंडी और विकास ने जो जो जानकारी मुझे दी थी उसी के आधार पर मैंने अपनी बात चीत की स्ट्रेटेजी बनायीं और ईनू को इम्प्रेस करता चला गया. एक दिन वो मुझे एक पार्टी में ले गयी जहाँ  मैंने से नाचते नाचते  अच्छे से पीने पर मजबूर कर दिया और फिर उसके फ्लैट पर ड्राप करने की बजाये उसे ये बोल कर अपने फ्लैट पर ले आया कि कहीं उसके न्मकान मालिक को पता चला तो रातों रात फ्लैट खली करवा लेगा. वो मूर्ख मेरे साथ मेरे फ्लैट पर आगई और मेरे साथ ड्राइंग रूम में डांस करने लगी.

READ  Threesome with cousin and sister Part-2

मैंने उसे पकड़ कर डांस किया और उसकी हर जायज़ नाजायज़ बात पर सिवाए हाँ के कुछ नहीं किया, अब मैंने उसे अपने काबू ममें लिया और उसे कहा “मैंने तुम्हारी इतनी बातें मानी अब तुम्हे मेरी माननी होगी” ईनू ने  हैंडशेक कर के वादा किया तो मैंने उससे कहा “आई वांट टू मेक लव टू यू” वो हंसी और बोली “यू आर वेलकम डिअर फ्रेंड” और ये कह कर उसने मेरे सीने पर अपना सर रख दिया और उसे चूमने लगी. मैं उसे गेस्ट रूम में ले गया और उसके जिस्म को सहलाने लगा, ईनू नए पलट कर मेरे साथ वो किया जिसकी मुझे इतनी जल्दी आशा नहीं थी दरअसल उसने मेरे सामने अपनी पार्टी ड्रेस खोल दी, मैंने ध्यान से देखा तो उसने अंडरवियर नहीं पहन राखी थी सिर्फ ड्रेस के नीचे एक डिज़ाइनर बस्टियर पहना था और जब मैंने पूछा “तुमने अंडरवियर क्यूँ नहीं पहनी “ तो उसने जवाब दिया “पार्टी में ओपोर्च्युनिटी बहुत मिलती है ना इसलिए”.

ईनू तेबीस चौबीस की रही होगी और मेरे लिए काफी छोटी थी लेकिन जब वो लोगों को ही बाँट रही थी तो मेरे ले लेने से क्या फर्क पड़ना था, मैंने उसे काफी देर तक चूमा और उसके बदन पर अपनी उंगलियाँ फिराता रहा जिस से वो पूरे माहौल में आ गयी और मेरे लंड पर हाथ फेरने लगी. मैंने उसकी चूत में ऊँगली पेल कर उसे ऐसा तडपाया की उसकी चूत पनिया गयी और वो हाय हाय कर उठी,  ईनू मेरे ऊँगली वाले कृत्य से तो गरम हो ही चुकी थी की मैंने उसकी चिकनी चूत पर चूम के उसे और भड़का दिया अब तो ईनू रोके ना रुक रही थी उसने मेरी पेंट खोल कर मेरे लवडे को ऐसा चुस्सा की मेरे तो गोटे ही मुंह में आ गए. मैंने उसको उसके बालों से पकड़ा और बिस्तर पर सीधा लिटाकर उसकी दोनों टांगें हवा में ले ली और अपना लंड उसकी नौजवाँ चूत में एक साथ पूरा का पूरा पेल दिया, ईनू इस शिद्दत से “आःह्ह्ह उह्ह्हह्ह उफ्फ्फ्फ़ माँ मरर जाउंगी फक मी सर फक मी हार्डर” बोल रही थी की मज़ा ही आ गया.

READ  दोस्त की शादी, मेरी चाँदी – पार्ट 3 • Hindi sex kahani

मेरा मन था की मैं उसे घोड़ी बना कर चोदु लेकिन उसने मुझे कहा “सर मुझे गोदी में ले कर फक करो ना” तो मैंने खड़ा हो गया और वो किसी बन्दर के बच्चे की तरह मुझ पर लटक गयी मैंने उसकी चूत में अपना लंड वापस से सेट किया और उसे हौले हौले उछलने को कहा. ईनू बड़े ही मज़े से मेरे लंड को अन्दर बाहर ले रही थी और उसके जिस्म की गर्मी से मैं पिघल रहा था. मैंने उसका बस्टियर भी ढीला कर के उतार फेंका तो उसके बेहतरीन मुलायम चुचे मेरे चेस्ट के बालों से रगड़ खाने लगे और इस तरह ईनू का एक्साइटमेंट और बढ़ गया वो मेरे ऊपर लती हुए ही झड़ गयी और उसने उछलना भी बंद कर दिया. अब मुझे अपनी भड़ास निकालनी तो थी ही सो मैंने उसको बेड के किनारे टिका कर उसकी एक टांग हवा में ले जा कर उसकी चूत को बीस मिनट तक और ज़ोर ज़ोर से पीला और फाइनली मैं भी झड़ गया. ईनू मेरे लंड को ले कर धन्य हो गयी थी क्यूंकि आज तक इन नए लडको को वो घुआ रही थी जबकि मैंने उसे घुमा घुमा कर चोदा रात भर, ईनू मुझसे उस हफ्ते दो तीन बार चुदी और जब उसने मेरे आगे परमानेंट करवाने की बात की तो मैंने उसे उसी तरह से निपटा दिया जिस तरह से वो सब लड़कों को मूर्ख बनाती थी.

Aug 19, 2016Desi Story

Content retrieved from: .

Related posts:

शिखा भाभी का सीधा देवर
नैना की आउटडोर में ले ली
दीदी की कुंवारी चूत की चुदाई की
जब मैने अपनी सास की चुदाई की
कामुक मुंबई की औरत को चोदा
सबिता भाबी को नंगा करके चोदा भाग
चूत का नशा - Desi Sex KhaniyaDesi Sex Khaniya
Aunty Ki Mast Jawani – 2
दोस्त की बहन ने मौका दिया
My Teacher Taught Me Life Lessons
Fucking A Mumbaikar - Indian Sex Stories
Office Sex With Amisha - Indian Sex Stories
Beginning Of A New Chapter - III
Mummy Ki Chudai Paraye Mard Se Part-3
Fucked While I Was Drunk
Desperate Hot Neighbor Bhabhi - Indian Sex Stories
New Gay Life Part - 2
Weekend Hookup With Young Mallu Divorcee
Part 10 - Sexy Sendoff
Threesome With Sahil And Priya
Life As A Call Boy Part - 1
Anish's Hunt - The Junior College Days
Chut meri didi ki chudakkad nanad ki
Hot Aunty Gave Desi Blow Job As Sex Was Not Possible At That Time
Tits of that Allahabadi waitress made me to seduce her by costly gift
Hot game between pussy and penis which is an attractive game for many
My friend’s birthday party - Sucksex
Robbed fuck - Sucksex
Call girl orgy - Sucksex
What are neighbors for - Sucksex

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *